TGT Full Form In Hindi – टीजीटी, PGT का फुल फॉर्म क्या होता है?

TGT Full Form, टी जी टी फुल फॉर्म, टीजीटी और पीजीटी का पूरा नाम क्या है? अगर आपको इनके मतलब नही मालूम है. तो आज की पोस्ट में हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे है. तो चलिए पहले जानते हैं. टी.जी.टी. क्या है? TGT Full Name, PGT Full Form In Hindi, TGT Teacher

TGT Full Form In Hindi – टीजीटी क्या होता है?

tgt full form

TGT का Full Form “Trained Graduate Teacher” होता है. जिसे हिंदी में “प्रशिक्षित ग्रेजुएट टीचर” कहते है. या फिर “प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक” कहते है. बात दे कि ये कोई कोर्स नही है. बल्कि ये किसी graduate किये हुए छात्र को शिक्षण में प्रशिक्षण पूरा करने के बाद दी गयी एक शीर्षक (टाइटल) होती है। यदि आपने स्नातक के बाद B.ed किया है तो आप एक टीजीटी ही कहलायेंगे. आपको अलग से TGT करने की कोई जरूरत नही है

टीजीटी का मतलब – TGT Means

एक TGT शिक्षक कक्षा 6 से 8 तक के छात्रों को शिक्षा देने के योग्य (Eligible) होता है. अगर आप टीचर बनना चाहते है तो आपको TGT की जरूरत पड़ेगी. टीचर बनने के लिए एक Exam होता है और आपको Exam पास करना होता है. उसके बाद इंटरव्यू देकर इसमे चयनित हो सकते है. उसके बाद लास्ट में किसी एक स्कूल का चयन करके TGT Teacher बना जा सकता है. TGT द्वारा सिखाये जाने वाले विषय कुछ इस प्रकार है।

  • गणित
  • अंग्रेजी
  • विज्ञान
  • भूगोल
  • इतिहास
  • क्षेत्रीय भाषा
  • अर्थशास्त्र

PGT Full Form In Hindi – पीजीटी का फुल फॉर्म

PGT का फुल फॉर्म “Post Graduate Teacher” होता है. ये भी TGT की तरह एक शीर्षक (Title) ही है. जो पोस्ट ग्रेजुएट करने वाले टीचर को B.Ed. करने के बाद दी जाती है. एक PGT Teacher कक्षा 9 से लेकर 12 तक के स्टूडेंट को पढ़ाने के योग्य होता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस समय TGT टीचर को प्रति माह लगभग ₹45000 से लेकर ₹47000 तक की सैलरी मिलती है।

इसके अलावा एक PRT टाइटल भी है. जिसका फुल फॉर्म “Primary Teacher” होता है. ये 1 से लेकर कक्षा 5 तक के स्टूडेंट को शिक्षा दे सकते है. इसके लिए इन्हें इंटरमीडिएट पास करने के बाद D.ed करना अनिवार्य होता है।

Tips

So Friends i hope की TGT Full Form In Hindi, PGT का Full Form और PRT Full Form In Hindi आपको पता चल गया होगा. तथा इसके लिए कौन सी Qualification की जरूरत पड़ती है ये भी समझ मे आ गया होगा. अगर आपको हमारी तरफ से दी गयी ये छोटी सी जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले. साथ ही हमारे ब्लॉग के नोटिफिकेशन को भी ऑन कर ले. जिससे आने वाले नए पोस्ट की जानकारी आपको मिलती रहे।

Join Our Telegram Channel

Read More

Mr. Samir HFT के Co-Author & Founder है इन्हे हमेशा से नयी चीजे सिखना और उसे लोगो के साथ शेयर करना पसंद है. अगर आपको इनके द्वारा शेयर की गई जानकारी अच्छी लगती है तो आप इन्हे Social Media पर फॉलो कर सकते है। Thank You!

16 COMMENTS

  1. बहुत ही अच्छी जानकरी प्राप्ति हुई ।

  2. Sir mere paas B.A me economics or drawing subject the lakin Maine B.ed. Haryana se ki to vaha mere b.ed ke sub. Hindi or s.s.t the kyoki HR. Me Hindi or English compersury hai jiske liye muje dobara se Hindi me B.A Karna pada Maine economics or sociology me M.A bhi liya hua hai ab muje samaj Nahi aa Raha hai ki mai Kya Karu p.g.t ya t.g.t

  3. Namaskar sir mai vrindavan mathura u.p.se hu.mai BA kiya hua hun sath me vocal music se prabhakar 6year ka korsh kiya hu.ab mujhe B.ed karna jaruri hai ya nahi?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here