HTTP Full Form In Hindi – एचटीटीपी का फुल फॉर्म क्या होता है!

HTTP Full Form In Hindi – दोस्तो यदि आप internet का इस्तेमाल करते है तो अपने http के बारे में जरूर सुना या पढ़ा होगा। तथा आप जब भी अपने Browser में किसी URL को लिखते है और उसे search करते है तो उसके आगे हमेशा http लिखा आ जाता है। और यदि आप को इसके बारे में नही पता है तो आपको इसके बारे में जानने की तलब तो ज़रूर होती ही होगी। तो हम आपको बता दे कि यह एक protocol है जो कि internet के माध्यम से files को आपके computer में भेजता है।

आपने internet पर अधिकतर Website पर https भी लिखा हुआ देखा होगा। तथा उनके आगे एक green color का lock भी बना हुआ आता है। अब आपके मन मे यह भी प्रसन आता होगा कि http वाली websites में तो ऐसा देखने को नही मिलता है लेकिन https वाली website पर lock का symbol क्यों बना आता है। तो दोस्तों हम आपकी जानकारी के लिए बता दे कि https एक secure protocol होता है।

जिस कारण उस पर green lock बना आता है और वही http unsecured protocol है जिसके करण उसमे lock नही बना आता है। और कई बार तो web browser पहले ही आपको web site not safe का message दे देते है। ताकि आप पहले ही सतर्क हो जाए। तो चलिए दोस्तो अब http क्या है और यह कैसे काम करता है इसके बारे में विस्तार से जान लेते है तथा http को कैसे secure किया जाता है और उसको कैसे https में बदला जाता है इसके बारे में भी जानते है। तो इस post को ध्यान से पढ़ते रहिए।

HTTP Full Form In Hindi – एचटीटीपी का फुल फॉर्म क्या होता है!

what is the full form of http

Http का Full Form “Hypertext Transfer Protocol” होता है। यह Network Protocol होता है जो कि world wide web में इस्तेमाल होता है। यह web servers और browser के बीच जानकारी को आदान और प्रदान के समय उपयोग में आता है।  जब भी आप अपने browser में कुछ भी search करने के लिए http लिखते है तो यह ही decide करता है कि वह file या data किस form में है और उसका किस तरह से transfer होगा।

Http data को server से browser में transfer करने के दौरान कुछ नियमों का पालन करता है। तथा यही यह भी निर्धारित करता है कि data को कैसे और किस प्रकार से आपके computer तक पहुँचाना है।

HTTP कैसे काम करता है।

Http एक प्रकार का request response protocol है। जो कि server और client जो कि user होता है उसके बीच मे communication करने का माध्यम बनता है और server तथा client में बीच मे संपर्क करने के लिए bridge बनाता है। यहाँ client का मतलब आपका web browser होता है और web server Apache या ISS होता है। जो की world में कही भी हो सकता है।

यहाँ server एक तरह का computer ही होता है। जिसमे की data को store किया जाता है। और जब कोई client server से किसी प्रकार का data मांगता हैं तो server client की request के अनुसार respond करता है।

Http stateless protocol हैं। इसका मतलब है कि client द्वारा भेजे गए सभी request को खुद ही अलग कर लेता है और execute करता है। और response देने के बाद connection को बंद कर देता है। मतलब की client को जिस भी file की जरूरत होती है उसका request server को भेजता है और server file को ढूंढ कर client को send कर देता है।

HTTP क्यो Secure नही होता है।

बहुत से लोगो को यह पता नही होता हैं की http secure नही होता है। http connection के जरिए कोई भी data अगर transfer होता है तो वह secure यानी कि encrypted नही होता है। और उसे कोई भी hacker hack कर सकता है तथा बीच  मे पढ़ कर बदल भी सकता है। ऐसे में यदि आप किसी website पर visit करते है तो किसी भी प्रकार का sensitive data जैसे कि bank या credit card details डालते वक़्त https यानी की secure connection की जाँच ज़रूर कर ले। और यदि connection secure न हो तो आप ऐसी website पर किसी भी तरह की information share न करे।

अपनी Website को http से https में कैसे बदले।

अगर आपके पास website है और उसमें secure lock का symbol, browser में नही दिखाता है तो आपको डरने की कोई जरूरत नही है। बस आपको अपनी website में SSL certificate को install करना है। यह ssl certificate आप कही से भी खरीद सकते है। इस certificate का काम आपके data को encrypt करने का और secure data transfer करना का होता है।

आपको SSL, hosting provider और domain provider आसानी से उपलब्ध करवा देते है यहाँ तक कि ssl certificate आपको free में भी मिल जाता है। ssl for free और cloud flare website आपको free में ssl certificate provide करवाती है।

जब आप अपने website पर ssl certificate को install कर लेंगे, तो आपको अब अपनी website के सभी URL को http से https पर redirect करना होगा। तो यदि आप की  WordPress का उपयोग करते है तो यह काम बहुत simple हो जाता है। आपको केवल एक plugin install करना है और उसको activate करना है। तथा आपकी website http से https पर redirect हो जाएगी।

WordPress के कुछ बेहतर plugin जिनको आप https पर redirect करने के लिए use कर सकते है। really simple ssl,

HTTPS क्या है HTTPS का Full Form क्या है।

Https का full form hypertext transfer protocol secured है। यह http का upgraded version है जो कि secured होता है और इसमे data की चोरी नही हो सकती है। इसमे Ssl का इस्तेमाल होता है। जो कि server और browser के बीच data को encrypted form में transfer करता है।

Https protocol में तीन चीज़े होती है।

  • Privacy- इसमे data को encrypt करना ताकि communication के बीच कोई third party data को access न कर सके।
  • Integrity- इस बात को ensure करना कि data दोनों end में यानी कि server और client के बीच से कही बदली न हो।
  • Authentication- इसमे client और server दोनों communication के दौरान अपनी अपनी identity proof करते है ताकि इस बात की पहचान हो सके कि जो दोनों के बीच मे communication हो रहा है और data share कर रहे है वो दोनों वही है कहि गलत व्यक्ति तो नही है।

Https में डेटा को secure करने के लिए cryptography technology का इस्तेमाल करके data को encrypt किया जाता है। और data को कुछ ऊट-पटाँग words में बदल दिया जाता है जो कि समझने और पढ़ने में नाममुंकिन्न होता है। इसको बिना private key के decrypt करना बहुत मुश्किल होता है।

HTTPS कैसे काम करता है।

जैसा कि मै आपको ऊपर भी बता चुका हूं कि https में data encrypt होकर एक end से दूसरे end तक जाता है। तो चलिए आपको cryptography technology को समझाते हुए बताते है की यह काम कैसे करता है।

Cryptography वह टेकनीक है जिसके जरिए simple plan text information को एक जटिल और न समझ आने वाली भाषा मे बदल दिया जाता है। जिसे केवल authorized व्यक्ति ही पढ़ सकता है।

simple text को encrypt तथा decrypt दो तरह के keys की मदद से की जाती है। जो कि private key और public key होते है।

इस काम मे एक खाश प्रकार के algorithm का प्रयोग किया जाता है। तथा इसी की मदद से दो प्रकार के keys को generate किया जाता है। जिसमे से की private key को अपने पास रखता है और public key को सभी के साथ share कर देता है। तथा जब कोई आपको किसी प्रकार का secret message send करना चाहता है तो वह public key की मदद से message को encrypt कर देता है और आपको send कर देता है। तथा जब आपको वह message receive होता है तो आप के पास मौजूद private key की मदद से उसे decrypt करके आप पढ़ सकते है।

HTTP और HTTPS में क्या अंतर है।

  • Https secured protocol होता है जबकि http unsecured protocol होता है।
  • Http में data encrypted नही होता जिससे कि data को कोई भी बीच मे पढ़ और बदल सकता है। वही https में data secure होता है जिससे कि इसको कोई भी hack नही कर सकता है।
  • Http में ssl certificate की जरूरत नही पड़ती है लेकिन https protocol में ssl certificate की जरूरत पड़ती है ताकि identity की पहचान की का सके।
  • Http में port 80 के जरिए data transmit होता है जबकि https में port 443 के जरिए data transmit होता है।
  • आप blog, college website पर http का इस्तेमाल कर सकते है जहाँ पर bank से related details को share न करना पड़े लेकिन shopping और banking जैसे website पर https जरूरी होता है।

Tips

दोस्तो इस पोस्ट में आप ने जाना कि http क्या है इसका Full Form क्या होता है और यह कैसे काम करता हैं। तथा https क्या होता है और यह कैसे http से अलग होता है। और इसके फायदे और नुकसान क्या है। दोस्तो आप जब भी internet पर मौजूद किसी website के माध्यम से किसी प्रकार की जानकारी को ढूंढते है तो उसमें http का बहुत अहम role होता है। लेकिन आप जब भी किसी website पर जाकर अपनी कोई निजी information share करते है तो उस website का https होना यानी कि secure होना बहुत जरूरत हैं।

क्योंकि http website में data encrypted नही होता है और न ही इसमे server verify होता है तथा ऐसे में कोई भी hacker आपका data बीच से चोरी कर सकता है। तो आप जब भी किसी प्रकार की sensitive information जैसे कि bank details, atm card number या financial information share करते है, तो हमेशा https की जाँच कर ले। तभी किसी तरह के sensitive information को share करे।

आप को हमारी यह जानकारी कैसी लगी आप हमें comment में ज़रूर बताएं और इस post को आप अपने दोस्तों के साथ भी share करे ताकि उनको भी http के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके।

Join our Telegram Channel

Read More

नमस्ते, मेरा नाम Samir है मै HFT का Co-Author & Founder हु मुझे हमेशा से नयी चीजे सिखने तथा उन्हे लोगो के साथ शेयर करना पसंद है. क्योकि मैं भी आपकी तरह ही हु. अगर आपको हमारा काम पसंद आता है तो हमे सोशल साईट पर फॉलो कर सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here