GIF Full Form In Hindi – जीआइएफ फुल फॉर्म क्या होता है?

GIF Full Form Hindi – हम सभी फोटो और Image के बारे में आज के समय में जानकारी रखते हैं। पहले के समय में एक ही प्रकार का फोटो होता था जो Hard copy में Photo sheet पर हमें देखने को मिलता था। लेकिन आज के Modern समय में फोटो के कई सारे Version आ गए हैं और Technically उनमें कई प्रकार की Format देखने को मिलती है।

आज हम उन्ही में से एक Format के बारे में बात करने जा रहे हैं जिसका नाम है GIF। आज के समय की सबसे Popular Image Format है GIF। वैसे तो कई प्रकार की Image Format होती हैं जैसे JPEG, PNG इत्यादि ये आज के समय की सबसे प्रचलित Image Format हैं।

आप जब किसी Image को देखते हैं तो उसमें आपका Focus उस Image के Color और आकार पर जाता है। जब हम Animation की बात करते हैं तो हम देखते हैं कि उसमें कुछ जो Image होती है वह चलती हुई होती है। तो यहाँ पर GIF का बहुत बड़ा Role होता है। तो आईये जानते है What is The Full Form Of GIF.

GIF क्या है? GIF Full Form In Hindi

what is the full form of gif hindi

Moving Picture के बारे में शायद आप सभी ने सुना ही होगा। Moving Image बहुत ही कम सेकंड की होती है। और आज के समय में Moving Image का काफी Trend है। Social Media जैसे Facebook, Instagram, WhatsApp etc इन सभी में GIF का बहुत चलन है। GIF का पूरा नाम यानि Full Form “Graphics Interchange Format” है। और इसके नाम से ही यह सिद्ध होता है कि यश एक Bitmap Image है इसका File Extension .GIF होता है। यह आज के समय में Image Moving और Animation के लिए अत्यधिक Use किया जाता है।

अगर इसे JPEG के साथ तुलना किया जाये तो यह GIF Lossless Compression का उपयोग करता है। साथ ही इसमें Image की Quality कम नहीं होती। Animation को GIF का ही बड़ा रूप माना गया है। कई बार हम देखते हैं जो Image Motionless होती है उसमें इतना Attraction नहीं होता, लेकिन जो Image Motion के साथ होती है वो काफी Attractive तो होती ही हैं साथ में उनके द्वारा किसी Message को बहुत ही अच्छे तरह से Represent किया जा सकता है। GIF को सिर्फ एक Image कहना गलत होगा।

GIF Animation

GIF Animation आज के समय में बहुत चर्चित है। इसे अकेला Image कहकर या अकेला GIF कहकर नहीं पुकारा जा सकता। क्योंकि यह बहुत सी Image का एक Compilation होता है। इस Compilation को GIF की सहायता से एक Sequence में Display किया जाता है। अपने देखा होगा कि Image में बदलाब होते रहते हैं तो ये बदलाब जब एक सभी Time Interval में Display होते हैं तभी एक Movement पर इनमें Illusion पैदा होता है और ऐसा लगता है कि ये Image में Movement हो रहे हैं।

अगर आप ये सोचते हैं कि ये Image Automatic ही Movement में आती है तो ऐसा नहीं है इसके लिए Software के द्वारा इन Image को एक Order में एक Specified Time Interval के साथ Display किया जाता है तभी उस Image की Quality इतनी उम्दा होती है। इसमें बहुत सारी बातों का ध्यान रखना होता है जैसे Animation Loop क्या हो, Display Time क्या हो, Time Interval क्या हो इत्यादि।

GIF का प्रारंभ

GIF के प्रारंभ को GIF का इतिहास भी कहा जा सकता है। GIF को GIF 87a के नाम से भी जाना जाता है। 1987 में GIF को CompuServe के द्वारा Publish किया गया था। इसके बाद इसको 1989 में Comp Serve के द्वारा फिर से Update किया गया। और इसका नाम बदल कर “GIF 89a” रखा गय। हालाँकि 89a पिछले Version 87a के काफी समान था एवं इसके Specification भी बहुत कुछ एक जैसे ही थे।

लेकिन 87a Transparent Background और Image Metadata को Support करता था और वहीं 89a Animation Delay को Support करता था। दोनों ही Version Animation को Support करते हैं।

GIF में 256 रंग होते हैं लेकिन Digital Photo को Store करने के लिए ये Ideal Color नहीं है। अगर हम Digital Camera की बात करें तो उसमें Digital Photos या Image को Store किया जाता है उसमें Ideal Color Format का प्रयोग किया जाता है। Camera में JPEG Format का प्रयोग किया जाता है क्योंकि या Millions of Color को Support करती हैं।

GIF का प्रयोग कहाँ होता है?

अगर Technically देखा जाये तो GIF का प्रयोग सबसे ज्यादा Website के Banner बनाने के लिए एवं Button के लिए होना चाहिए। इसका कारण यह है कि इनको बनाने के लिए ज्यादा Color की आवश्यकता नहीं होती। लेकिन अधिकतर Website Developer PNG Format का प्रयोग करते हैं। इसके पीछे कारण यह है कि PNG Broader Range of Color को Support करता है। इसलिए Web में अभी भी GIF ज्यादा Popular है।

GIF के प्रकार

GIF के मुख्य दो प्रकार होते हैं, Version 87a एवं 89a। Version 87a को सन 1987 में Release किया गया था वहीं Version 89a को सन 1989 में रिलीज़ किया गया जो 87a का Updation था

GIF 87a

GIF का यह सबसे पहला Version था जो सन 1987 में Release किया गया था। यह Version LZW Files, Compression, Interlacing, 256-Color Palettes और Multiple Image Storage को support करता था। यह काफी Popular Version था।

GIF 89a

इसका अधिकतर उपयोग Background Transparency के लिए किया गया था। इसके अलावा इसे Multiple Image Storage Feature को Animation के लिए ज्यादा Useful माना गया।

हमने यहाँ जब GIF की बात की ही है और File Compression की बात कर रहे हैं तो यह जानना भी बहुत जरुरी है कि ऐसा कैसे होता है और इसके लिए कौन सी Algorithm Use की जाती है।

LZW Compression Algorithm

LZW Compression Algorithm को थोड़ा Technical भाषा में समझना होगा क्योंकि यह एक Algorithm होती है। इसे Abraham Lempel, Jacob Ziv, और Terry Welch के द्वारा बनाया गया था। और इन्हीं के नामों के अनुसार इस Algorithm का भी नाम LZW रखा गया। LZW Compression एक Lossless Data Compression Algorithm है। इसमें table-based Lookup Algorithm की सहायता से किसी बड़ी File को छोटी File में Compress किया जाता है।

इस Algorithm की सबसे ख़ास बात यह है कि इसके द्वारा File को Compress करने पर Data Loss नहीं होता। इस Algorithm का प्रयोग मुख्यतः GIF, PDF, और TIFF File Format में ही किया जाता है।

LZW Compression Algorithm कैसे कार्य करती है?

यह Algorithm हर एक Symbol को एक Sequence में Read करती है एवं इसके बाद Symbol को String में एक साथ रखकर इस String को एक Code में Convert करती है। ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि Code को Sttring की तुलना में कम Space की आवश्यकता होती है। और इसी कारण इसे Compressed File कहा जाता है।

LZW में Code Table का प्रयोग होता है इसे 4096 Table Entries को Preference दिया जाता है।

जब Encoding की Process होती है तब इसे 256 Entries ही Contain करते हैं। और बाकि पूरी टेबल खाली होती है।

जैसे-जैसे Encoding Process होती है वैसे-वैसे दोहराए गये Sequences की पहचान की जाती है और उसे Code Table में Add किया जाता है।

अब Compressed File से Code को उठाया जाता है और Decoding होती है। अब ये Code Table के द्वारा Translate किये जाते हैं। ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि यह पहचाना जा सके कि वे किस Character को Represent कर रहे हैं।

LZW Compression के लाभ

LZW एक Lossless Data Compression Technique है। इसमें किसी भी Data का Loss नहीं होता इसलिए इसे Secure माना जाता है।

Implementation में भी यह एक आसान Technique है।

Decompression को String Table को Pass करने की जरुरत यहाँ नहीं होती।

इसमें बहुत ही फ़ास्ट Compression होता है।

इसमें Table को Recreate किया जाना संभव है।

GIF Image बनाने का तरीका

GIF बनाना एक Creative चीज़ है और जो लोग भी इसमें Interest लेते हैं वे पूर्ण रूप से इसमें खो जाते हैं। कई लोग चाहते हैं कि वे GIF Image बनाएं। तो इसे आसानी से बनाया जा सकता है। लेकिन इसके लिए आपको कुछ Software की आवश्यकता होगी। कुछ Software Paid होते हैं एवं कुछ Free। आप अपनी सहूलियत के अनुसार Software Use कर सकते हैं।

इसके लिए आप Adobe Photoshop, GIMP और Microsoft GIF का प्रयोग कर सकते हैं और इसका प्रयोग बहुत अधिक किया जाता है। अब तो बहुत सी ऐसी Application आ गई हैं जिनसे आसानी से GIF Image बनाई जा सकती है एवं इसे Convert किया जा सकता है। आज के समय में Smartphone तो सभी के पास होते हैं। तो इसमें आप बहुत सारी Free Application का प्रयोग कर सकते हैं GIF बनाने के लिए।

Mobile Application ने यह सब बहुत ही आसान कर दिया है। जब आप Google Play पर GIF Making Application Search करने के लिए जाओगे तो वहाँ आपको बहुत सारी Application मिल जाएँगी जो Free होंगी और आसानी से आप इन्हें उपयोग कर सकते हैं।

GIF बनाने के लिए उपयोग होने वाले Software

GIF बनाने के लिए कई प्रकार के Software एवं Application का उपयोग किया जाता है। जो कि Professional GIF बनाने में उपयोगी होती हैं जैसे:

Adobe Photoshop

ये एक ऐसा Software है जिसके द्वारा Photo में कई प्रकार के परिवर्तन किये जाते हैं। इसके द्वारा Image में इतने प्रकार के परिवर्तन संभव है कि व्यक्ति पहचान ही नहीं पाता कि यह उसका ही Photo है यह Software ज्यादा महँगा भी नहीं होता एवं इसको आसानी से सीखा जा सकता है। इसमें Alpha Compositing, Masks, Color Models (RGB, CIELAB, CMYK, Duotone, Spot Color) ये सभी Facility शामिल होती हैं। इसमें कई ऐसे Plug-in होते हैं जिनसे Additional Functions तथा Tools को Add किया जा सकता है।

इसमें GIF Image को बहुत ही उम्दा तरीके से बनाया जा सकता है। इसलिए GIF के लिए इसका प्रयोग करते हैं। Photoshop से Background से लेकर Face में कई प्रकार की एडिटिंग संभव है।

GIMP

GIMP भी एक फोटो Editing Software है इसे आप Free में भी Download कर सकते हैं और इसमें Photo Editing के साथ ही साथ आप Image में Filter भी लगा सकते हैं। यह बहुत ही अच्छा Software है। GIMP के कई सारे Version हैं जिन्हें आप सुविधा के अनुसार उसे कर सकते हैं। यह Software बहुत ही उम्दा Software हैं जिसके द्वारा GIF Image Create की जा सकती है। आज के समय में इसका बहुत अधिक प्रयोग किया जा रहा है यह एक प्रचलित Software है।

Microsoft GIF

यह भी एक Software ही है जो Microsoft का है। इस Software का उपयोग करके आप बहुत ही आसानी से GIF Image Create कर सकते हैं।इसके भी कई सारे Version आप अपनी सहूलियत के अनुसार खरीद सकते हैं। इनके कुछ Proxy Software भी होते हैं जिन्हें आप आसानी से Free में Use कर सकते हैं।

GIF के क्या फायदे हैं?

  • GIF के कई प्रकार के फायदे हैं जैसे:
  • अगर आप Image या फिर किसी Animation Program की Series बनाना चाहते हैं तो GIF एक बहुत ही अच्छा Option है।
  • Web Browser में GIF Files को Represent करने के लिए Plug-in की आवश्यकता नहीं होती।
  • यह एक lossless Compression Technique से युक्त है इसका मतलब है कि Image File के Size को बिना किसी Distortion से Compress किया जाता है।
  • Animated GIF s का जो Files Size को Flash File की तुलना में काफी कम होता है। साथ ही इन्हें Upload एवं Download करना बहुत ही आसान होता है।

Tips

I Hope आपको GIF क्या है इसका Full Form क्या होता है। (GIF Full Form In Hindi) ये सब आप जान ही गए होंगे। बता दे की ये बहुत ही अच्छी Image होती है जिसको कई बार लोग Animation भी समझते हैं लेकिन GIF Animation अलग होता है। लेकिन दोनों में एक ही Software का प्रयोग कर सकते हैं। GIF का प्रयोग आज के समय में बहुत अधिक किया जाता है। GIF के द्वारा कई ऐसे Message दिए जाते हैं जो बहुत ही Effective होते हैं। इसलिए लोग इसे बहुत Follow कर रहे हैं। वैसे तो बहुत सी Image Format होती हैं।

इनका बहुत अधिक उपयोग किया जाता है। Banner के लिए, Image Promotion के लिए एवं कई कार्यों के लिए इन Image Format को प्रयोग किया जाता है। Website Development में भी कई जगह Image Format की आवश्यकता होती है। तब Developer इन Format का प्रयोग करता है जैसे JPEG, GIF, PNG इत्यादि. जरुरत के अनुसार ही इनका प्रयोग किया जाता है।

Read More

Mr. Samir HFT के Co-Author & Founder है इन्हे हमेशा से नयी चीजे सिखना और उसे लोगो के साथ शेयर करना पसंद है. अगर आपको इनके द्वारा शेयर की गई जानकारी अच्छी लगती है तो आप इन्हे Social Media पर फॉलो कर सकते है। Thank You!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here