EMI FULL FORM - ईएमआई का फुल फॉर्म क्या होता है?

EMI Full Form In Hindi – ईएमआई का फुल फॉर्म क्या होता है, ईएमआई किसे कहते है, Full Form Of EMI, इसका हिन्दी में अर्थ क्या होता है. इन सभी सवालों के जवाब आज हम आपको इस पोस्ट में देने जा रहे है।

EMI Full Form – ईएमआई का मतलब क्या होता है?

EMI Full Form

दोस्तो, EMI का फुल फॉर्म “Equated Monthly Installment” होता है. जिसे हिंदी में “मासिक क़िस्त” कहते है। इसे इस तरह समझिए जैसे आप एक दस हजार का नया मोबाइल खरीदना चाहते है. लेकिन आपके पास उतने पैसे नही है तो आप उसे EMI पर ले सकते है।

यानी दस हजार रुपये एक बार मे ना देकर. हर महीने फिक्स अमाउंट देना वो भी एक समयावधि के अंदर. हालांकि आप सभी प्रोडक्ट ईएमआई पर नही ले सकते. लेकिन EMI पर आप वो प्रोडक्ट ले सकते है. जिसके लिए कंपनी EMI सुविधा उपलब्ध कराती है।

इसके अलावा अगर आपने बैंक से Loan लिया है या फिर कोई Car या Bike खरीदना चाहते है. तो आपको वहा EMI जैसी सुविधा मिल जाती है. क्योंकि इनका अमाउंट इतना ज्यादा होता है कि इसे एक बार मे लौटना आसान नही होता है।

जिसके लिए Bank या Finance कंपनिया उस प्रोडक्ट को EMI पर उपलब्ध करवा देती है. जिसके बाद आपसे कुछ पैसे जमा करवाकर बाकी के बचे पैसों को ईएमआई यानी मासिक क़िस्त के रूप में वसूलती है. मुझे उम्मीद है आप समझ गए होंगे EMI क्या होता है (EMI Full Form In Hindi).

EMI को Calculate कैसे किया जाता है?

अगर आप EMI पर किसी भी प्रोडक्ट को खरीदने जा रहे है तो आपको इसे कैलकुलेट करने भी आना चाहिए. ताकि कोई आपसे इसके बदले ज्यादा पैसे ना ले सके. तो आइए जानते है ईएमआई को कैलकुलेट कैसे किया जाता है?

EMI को कैलकुलेट करते समय तीन चीजो को ध्यान में रखा जाता है। इसके अलावा एक फ्लैट ब्याज दर भी होता जिसे हमने नीचे बताया है।

  • बैंक या साहूकार के द्वारा लिया गया ब्याज दर जिसे अंग्रेजी में Interest Rate कहते है।
  • ऋण लेने वाले व्यक्ति के द्वारा उसे चुकाने का समय ब्याज सहित जिसे Tenure of the loan भी कहते है।
  • उधार ली गयी राशि यानी Loan Amount

Car या Bike का EMI कैसे Calculate करते है?

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया है कि एक फ्लैट ब्याज दर भी होता है. जो Car या बाइक के लिए प्रयोग में लाया जाता है. इसकी गणना उस प्रोडक्ट की मूल ऋण राशि पर की जाती है।

जैसे मान लीजिए आपको ₹80,000 की एक Bike EMI पर लेनी है. जिस पर फ्लैट ब्याज दर 10% लगाया जा रहा है. और ब्याज सहित पूरी राशि को 2 साल के अंदर चुकाना है. तो इसे कुछ इस तरह से कैलकुलेट किया जाएगा।

  • बाइक का मूलधन – ₹80,000
  • चुकाने के समय – 2 साल
  • Interest Rate – 10%

तो 1 साल में 12 महीने होते है. तो 2 साल में 24 महीने हुए, तो सबसे पहले हम मूलधन को 24 महीनों से विभाजित करेंगे. (80,000÷24) = ₹ 3333.3

अब मूलधन (80,000) का 10% निकालने पर ₹8000 आएगा. इसे 12 महीनों से विभाजित कर देंगे। 8000÷12 = 666.6

अब दोनों को जोड़ देंगे. – 3333.3+666.6 = 3999.9 रुपये आपका मासिक क़िस्त (EMI) आएगा।

Tips

So Friend I Hope की आपको EMI Full Form In Hindi और इसे कैलकुलेट करने का तरीका समझ मे आ गया होगा. यदि आपको फिर भी कैलकुलेट करने में किसी प्रकार की दिक्कत आती है. तो आप प्ले स्टोर से EMI Calculator को इनस्टॉल करके भी पता लगा सकते है.

जहा आपको अपना अमाउंट, ब्याज दर, और उसे चुकाने की समयावधि दर्ज करना है. उसके बाद आपको कितना अमाउंट क़िस्त में देना है. इसकी जानकारी स्क्रीन पर मिल जाएगी। अगर आपको ये जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले.

साथ ही हमारे ब्लॉग के नोटिफिकेशन को भी ऑन कर ले. ताकि आपको इसके अपडेट बराबर मिलते रहे हम आपसे मिलते है. एक और नई जानकारी के साथ तब तक के लिए Thanks For Reading & Keep Visit Again.

क्या आपने ये पढ़ा!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here