DP का Full Form क्या होता है? जानिए इसके फायदे एवं नुकसान

DP Full Form In Hindi – आज के समय में हम Digital दुनिया में रह रहे हैं जहाँ Internet ने हर मुश्किल काम को आसान कर दिया है। पहले के समय में बात करने के लिए ट्रंक फ़ोन होते थे लेकिन आज के समय में लोगों के पास मोबाइल होते हैं और साथ में होता है Internet भी।

Internet और Social Media ने Social Communication को बहुत बढ़ावा दिया है। आज का समय Social Media का समय हैं जहाँ हम अलग-अलग Social Media वेबसाइट पर अपना अकाउंट बनाते हैं। इन Social Media में Facebook, Instagram, LinkedIn, WhatsApp कई सारी Social Media वेबसाइट और एप्लीकेशन आती है।

जब DP की बात करते हैं तो DP का एक गहरा रिश्ता Social Media से ही है। इसलिए यहाँ हम आज पहले DP के बारे में बात करेंगे और इसका Full Form जानेंगे फिर हम बात करें Social Media के बारे में।

DP क्या है DP का Full Form क्या होता है?

what is the full form of dp hindi

DP का Full Form “Display Picture” है। DP हम अपने Social Media Profile पर लगाते हैं वो हमारी पहचान होती है। हम वैसे तो DP में कुछ भी लगा सकते हैं वह हमारे ऊपर निर्भर करता है और अगर हम DP नहीं लगाना चाहते तो कई बार हम DP  नहीं लगाते। लेकिन आज कल कुछ Social Media वेबसाइट ने DP को अनिवार्य कर दिया है जैसे Facebook। Facebook पर आपको खुद का फोटो लगाना जरुरी है। NIP कई बार Social Media के लिए जरुरी होता है।

  • N – Name
  • I – ID (username, email id, phone number)
  • P – Profile Picture OR Display Picture

जब भी हम किसी Social Media पर अपना अकाउंट बनाते हैं तो यह जानकारी हमें निर्धारित बॉक्स में भरना जरुरी होता है तभी हम अपना अकाउंट इन Social Media पर बना सकते हैं। इसलिए यह भी कहा जाता है कि DP की इस जगह बहुत अहम् भूमिका होती है। DP का Full Form क्या होता है ये आप जान गए लेकिन अब बात आती है कि आखिर Social Media क्या है और उसमें DP कि क्या भूमिका है?

DP के फायदे

अगर Social Media में DP के लिए कोई विकल्प दिया है तो उसका कुछ फायदा तो जरूर होगा। DP आपकी एक पहचान होती है। वैसे तो आप DP में कोई भी फोटो लगा सकते हैं लेकिन अधिकतर लोग DP में स्वयं की फोटो ही लगाते हैं। लेकिन जो प्रोफेशनल Social Media Platform होते हैं उनमें लोग DP में अपना स्वयं का फोटो ही लगाना होता हैं। DP का फायदा यही है कि इससे लोग आपकी पहचान आसानी से कर पाएंगे।

मान लीजिये आपके किसी पहचान वाले का फ़ोन चोरी हो गया या वह आपसे Social Media पर जुड़ा नहीं है। और आपने अचानक उसे Social Media के द्वारा कोई मैसेज भेजा तो वह आपके DP के द्वारा आसानी से आपकी पहचान कर सकता है। लेकिन मान लीजिये अगर DP की Facility Social Media में नहीं होती तो यह पहचानना बहुत मुश्किल हो जाता। Social Mediaके द्वारा हम अपने कई सालों पुराने दोस्तों से भी जुड़ सकते हैं।

DP के नुकसान

कहा जाता है जिस चीज़ के फायदे हैं उसके नुकसान भी होते हैं। वैसे ही DP के भी नुकसान हैं। आप सभी ने Social Crime के बारे में तो सुना हो होगा। कभी-कभी लोग DP का गलत इतेमाल करते हैं और किसी का भी DP लेकर उसे Porn वेबसाइट पर एडिट करके डाल देते हैं और भी कई तरह के गलत कामों के लिए DP का उपयोग करते हैं। इस प्रकार के कई Case सामने भी आये हैं। इसलिए DP के नुकसान को नजर अंदाज नहीं किया जा सकता।

DP का दायरा

जी हाँ DP का भी एक दायरा होता है कि आपकी DP उस दिए हुए दायरे में ही आना चाहिए या उतनी ही बड़ी होना चाहिए कि दिए हुए बॉक्स में आ जाये। इसलिए इस बात का भी ध्यान रखना होता है कि फोटो का आकार बड़ा न हो और वह दिए हुए बॉक्स में Fit हो जाये।

Social Media क्या है?

आज के समय शायद ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं होगा जो Social Media के बारे में नहीं जनता होगा। आज कल छोटे-छोटे बच्चे भी Social Media पर हैं। आज के समय में Social Media का बहुत चलन है। Social Media में कई सोशल नेटवर्क आते हैं जिनके द्वारा एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति से Internet के जरिये जुड़ सकता है उनसे बात कर सकता है। Social Media, Social Communication का एक तरीका या जरिया है। ये एक फिजिकल नेटवर्क की तरह ही है लेकिन ऑनलाइन नेटवर्क है।

पहले के समय में किसी ने ऐसा सोचा भी नहीं होगा कि Technology इतनी आगे पहुँच जाएँगी कि इंसान कई किलोमीटर दूर होते हुए भी एक-दूसरे से बात कर पाएंगे और उन्हें देख पाएंगे। लेकिन Internet और Social Media के ज़माने में सब कुछ मुमकिन हो गया है। अगर आपका कोई रिश्तेदार या कोई दोस्त विदेश में भी बैठा है तो आप Internet के जरिये उसे देख सकते हैं उनसे बात कर सकते हैं। यह एक चमत्कार जैसा ही है। जहाँ यह सब संभव हो पाया। अब अगर DP की बात करें तो यह भी Social Media का ही एक हिस्सा है जहाँ हम इसके लिए दिए हुए निर्धारित जगह पर अपना फोटो या कोई भी फोटो लगा सकते हैं। यह पूर्ण रूप से आप पर निर्भर करता है कि आप अपनी DP में क्या फोटो लगाना चाहते हैं।

Social Media की परिभाषा

Social Media एक ऐसा Platform है जहाँ कोई भी User मतलब कोई भी व्यक्ति अपना अकाउंट बना सकता है जो बिल्कुल मुफ्त होता है। और उस Platform पर जो Information मांगी गयी है उसे भर कर उस Account का उपयोग कर सकता है। इनमें से कुछ Information आपको भरना जरुरी होती हैं जैसे आपका नाम, आपका ईमेल एड्रेस और आपकी प्रोफाइल पिक्चर और कभी-कभी आपका मोबाइल नंबर भी।

यह आपकी एक पहचान होती है इन Information को भरने के बाद आपके फ़ोन नंबर या ईमेल आईडी पर एक OTP या URL आती है जिसे Activation कोड या URL भी कहा जाता है। इसको Activate करने के बाद आप अपने अकाउंट को उपयोग कर सकते हैं, और ये Information इसलिए आपसे मांगी जाती है कि कोई और यूजर इसी समान आईडी से अकाउंट न बना पाए। और इसी दौरान आपको जरुरत होती है आपकी DP की। DP आप कुछ भी अपने अनुसार अपने Social Media अकाउंट में लगा सकते हैं।

Social Media Category

Social Media की दो Category होती हैं जैसे:

  • Internal Social Media
  • External Social Media

Internal Social Media

Internal Social Media को ISN भी कहा जाता है। यह एक Private community होती हैं जहाँ पर कम लोग आपस में जुड़े होते हैं। मान लीजिये आप एक ऑफिस में काम कर रहे हैं। और आपके ऑफिस में एक ऑफिस का Chat Messenger है तो वह भी एक Social Media ही होगा लेकिन उसे हम Internal Social Media कहेंगे। क्योंकि वह एक ऑफिस में कुछ लोगों के बीच ही उपयोग हो रहा है।

External Social Media

External Social Media के अंतर्गत बहुत बड़े-बड़े सोशल पलटफोर्म आते हैं जैसे Facebook, Twitter, Instagram, LinkedIn इत्यादि। इनमें आप अगर कोई पोस्ट करते हो तो वह पब्लिक होती है। आप इसमें कुछ लोगों को दिखाते हुए भी पोस्ट कर सकते हैं। लेकिन यह एक बड़ा Platform है जहाँ कई लोग आपसे जुड़े होंगे। साथ ही इसमें आपके पास कई विकल्प होते हैं जहाँ आप अपने अनुसार सारी पोस्ट और Communication को Private कर सकते हो।

Social Media की विशेषताएँ

वैसे तो आज के समय में Social Media को एक बहुत ही बड़ा वरदान माना गया है क्योंकि Social Media ने वो मुमकिन कर दिखाया जो सपने में ही संभव था। Social Media की कई सारी विशेषताएँ हैं जैसे:

अब पूरी दुनिया आपस में बात कर सकती है और कोई कहीं भी क्यों न हो एक दूसरे को देख सकता है क्योंकि Social Media ने video call का विकल्प भी दिया हुआ है।

पूरी दुनिया की खबर Social Media के जरिये आप तक पहुँच जाती है। आज के समय में देश विदेश में क्या हो रहा है यह सब भी आप Social Media के द्वारा जान सकते हैं।

अपने व्यापार को दे सकते हैं नई दिशा। जी हाँ आपने Digital Marketing का नाम तो सुना ही होगा। तो इसमें भी Social Media का बहुत बड़ा योगदान है आप अपने व्यापार को Promote करने के लिए Social Media का सहारा ले सकते हैं।

Social Media के द्वारा आप अपनी बात लोगों के बीच तक पहुंचा सकते हैं। मान लीजिये आपके साथ या आपके आस पास कोई ऐसी प्रतिक्रिया हो रही है जो सही नहीं है तो Social Media का प्रयोग करके आप अपनी बात पूरी दुनिया में फैला सकते हैं। Social Media एक बहुत ही बड़ा Platform है।

Social Media के द्वारा आप नौकरी भी ढूंढ सकते हैं। जी हाँ Social Media में आज कल यह भी संभव है और इसके लिए आपको किसी प्रकार से किसी को पैसे नहीं देना होंगे। आप Social Media के जरिये नौकरी के लिए भी Apply कर सकते हैं।

ऐसे ही कई फायदे हैं Social Media के। आप जैसे चाहें इसका प्रयोग कर सकते हैं। आज के समय में कई लोगों ने खुद को Social Media से ही आगे बढ़ाया है। पहले के समय में लोगों का हुनर बाहर नहीं आ पता था। लेकिन जब से Social Media आया है लोगों ने खुद का हुनर यहाँ दिखाना शुरू किया और इसके कारण कई लोगों के जीवन में सकारत्मक परिवर्तन आये।

Social Media के प्रकार

Social Media के प्रकार इस तरह हैं

  • Business Application
  • Medical Application
  • Research

और इन्हीं पर पूरा Social Media निर्भर करता है। अभी हमने Social Media की विशेषताएं देखीं। लेकिन Social Media के कई नुकसान भी हैं। जो कई बार भयानक रूप ले लेते हैं।

Social Media के नुकसान

Social Media के कई नुकसान हैं। जितने इसके फयदे हैं वहीं इसके कुछ नुकसान भी हैं।

हैकिंग

हैकिंग का नाम तो सभी ने सुना होगा। हैकिंग कई नियत के चलते की जाती है जैसे किसी से बदला लेना, किसी की पर्सनल Information चुराकर उसे पैसों में बेचना इत्यादि। तो Internet और Social Media इसमें कई ज्यादा सहायक होते हैं। Social Media के द्वारा ही एक हैकर यूजर के बारे में पूरी Information Collect करता है और फिर उसे नुकसान पहुंचता है। इसमें DP का भी बहुत योगदान है। लोग फर्जी DP लगाकर ऐसे काम करते हैं। और उस DP में वे किसी भी Random यूजर की DP को चुरा लेते हैं।

Information लीक होना

कई बार ऐसा होता है कि यूजर खुद ही कुछ चीज़ों को समझ नहीं पता और कई सारी Information लीक कर देता है। यहाँ भी Social Media के कारण बहुत बड़ा नुकसान हो जाता है। इसलिए जब भी आप किसी Social Media Platform पर हों तो आप उसके बारे में अच्छे से जान और समझ ले। DP भी कई बार इंसान लीक कर देता है जिसका कई अन्य लोग प्रयोग करके उसे एडिट करके आपका फायदा उठा सकते हैं।

तो इस तरह से Social Media और DP आपस में जुड़े हुए हैं। क्योंकि शायद ही आज के समय में कोई होगा जो अपने Social Media अकाउंट के प्रोफाइल पर DP न लगाता हो। लेकिन कई बार DP का गलत उपयोग होता है और तब साइबर क्राइम जैसी चीज़ें सामने आती है। साइबर क्राइम एक बहुत ही बड़ा अपराध होता है। अगर कोई व्यक्ति साइबर क्राइम के अंतर्गत किसी प्रक़र से अपराध का दोषी पाया जाता है तो उसे भी सजा होती है इसके लिए कुछ सजा सरकार द्वारा निर्धारित गयी हैं। ये व्यक्ति के अपराध पर निर्भर करता है कि उसे कौन सी सजा दी जानी चाहिए।

Social Media में DP को एक अच्छे उद्देश्य से लाया गया था लेकिन कई बार लोग अच्छे उद्देश्य को भी बुरा बना देते हैं। कहते हैं न कि दुनिया में कई प्रक़र के लोग होते हैं। तो यहाँ भी वह बात लागू होती है। वैसे Social Media के कारण लोगों ने बहुत तरक्की की है। इसका मानव जीवन में बहुत बड़ा योगदान हैं लेकिन लोग गलत तरह से इसे उपयोग करके इसका योगदान ख़त्म करते जा रहे हैं। अब लोग इस वरदान को अभिशाप बनाने पर तुले हैं।

वैसे अगर तरीके से उपयोग किया जाये और देखा जायए तो सोशल मीडिया ने सारी दुनिया को एक साथ जोड़ रखा है। I hope आपको DP का Full Form क्या होता है What Is The Full Form Of DP In Hindi आपको पता चल गया होगा साथ ही इसके फायदे एंव नुकसान की भी जानकारी आज आपने हासिल की है।

DP को लेकर आपकी क्या राय है? ये हमे कमेन्ट बॉक्स मे बताना ना भूले। साथ ही इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले!

Read More

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here