CV Full Form In Hindi – सीवी फुल फॉर्म क्या होता है?

CV Full Form In Hindi – जॉब आज के समय में जीवन का बहुत ही बड़ा हिस्सा है। लेकिन जॉब पाना इतना आसान नहीं है जितना हमें लगता है। इसके लिए कई प्रकार की तैयारी करनी होती जैसे अपना Resume बनाना, Interview की तैयारी करना और Proper ड्रेस कोड होना।

एक Interview के लिए बहुत सी बातें जरुरी होती हैं। इसमें Resume या CV एक बहुत Important Role Play करता है। इसलिए CV हमेशा अपडेट होना चाहिए। CV के कई फॉर्मेट होते हैं। ये फॉर्मेट अगर आप फॉलो करते हैं तो आपका Experience और Knowledge दिखाई देता है।

और जो भी व्यक्ति आपका Interview लेता है उसे समझ आ जाता है कि आप कितने Experience हैं। CV एक जॉब में बहुत बड़ी भूमिका निभाता है। आज हम CV के बारे में जानेंगे और इसका Full Form क्या होता है ये भी जानेंगे। CV, Resume जॉब के लिए बहुत ही जरुरी माने जाते हैं।

इसलिए अगर कोई व्यक्ति Fresher हो या Experience उनके पास CV और Resume होना जरुरी है। Interview में सबसे पहले आपका CV या Resume माँगा जाता है। इसके बाद अगर आप Select होते हो तब आपके दस्तावेज की Photocopy या Original Document मांगे जाते हैं।

CV क्या है? CV का Full Form क्या होता है?

whati is the full form of cv in hindi

Education के बाद जॉब के लिए Select होने की पहली सीढ़ी CV होता है। CV वह होता है जिसमें एक व्यक्ति से जुडी हुई कुछ जरुरी चीज़ें होती है जैसे Education, Hobby, Address, Parent’s Nam, DOB, Achievements, Experience इत्यादि।

जो कि Interview लेने वाले व्यक्ति के सामने हमारी पहचान को बनाने में सहायक होता है। उसे CV कहा जाता है। CV का पूरा नाम यानि Full Form “Curriculum Vitae” है यह लेटिन भाषा का शब्द है। कई लोग इसे Bio Data या Resume भी कहते हैं।

CV दो या दो से अधिक पेज का हो सकता है। कई लोग CV, Bio Data एवं Resume को एक ही समझते हैं। लेकिन क्या तीनों एक ही है इसके बारे में हम आगे जानेंगे।

CV, Resume एवं Bio Data में अंतर

CV , Resume एवं Bio Data तीनों अलग होते हैं लेकिन कई लोगों का यह मानते हैं कि तीनों एक ही हैं। CV दो या दो से अधिक पेज का होता है जिसमें व्यक्ति की Information होती है जैसे: Education, Hobby, Address, About Parents, DOB, Achievements, Experience इत्यादि।

वहीं अगर Resume की बात की जाये तो यह High Job Profile के लिए बनाया जाता है और ऐसी जॉब पोस्ट के लिए apply करने में उपयोग किया जाता है। Resume में Education, Achievements और Experience पर विशेष ध्यान और दबाब दिया जाता है। वैसे Resume सभी लोग बना सकते हैं

Fresher और Experience। Resume कम से कम डेढ़ से दो पेज का होना चाहिए। अब अगर Bio Data की बात करें तो इसमें व्यक्ति के बारे में कुछ ज्यादा ही जानकारी होती है। जिसमें व्यक्ति के परिवार के बारे में भी जानकारी होती है जैसे व्यक्ति शादीशुदा है या नहीं, उसमें Family के बारे में जानकारी इत्यादि।

ये सारी चीज़ें Bio Data में होती हैं। Bio Data अक्सर Modeling, Fashion के प्रोफेशनल के लिए बनाया जाता है। शादी के लिए भी Bio Data का उपयोग किया जाता है।

CV क्यों जरुरी है?

जब आप नौकरी के लिए जाते हैं तो कंपनी द्वारा आपका CV या Resume माँगा जाता है। जो एक प्रकार का Document होता है जिसमें व्यक्ति के Education, Hobby, Address, About Parents, DOB, Achievements, Experience के बारे में जानकारी होती है। जिससे Interview लेने वाले को व्यक्ति के बारे में जानने में आसानी होती है। इसमें आपकी थोड़ी बहुत पर्सनल और बाकी प्रोफेशनल जानकारी होती है।

CV में क्या लिखा होना चाहिए

  • सबसे पहले CV में आपका नाम लिखा होना चाहिए।
  • इसके बाद आपका ईमेल आईडी होना चाहिए।
  • इसके बाद आपका फ़ोन नंबर होना चाहिए।
  • इसके बाद Objective भी होना चाहिए।
  • इसके बाद आपका Qualification या Education के बारे में जानकारी होना चाहिए।
  • इसके बाद Skills होना चाहिए।
  • Skills के बाद Experience , Achievement के बारे में जानकारी होना चाहिए।।
  • इसके बाद आपकी like , dislike के बारे में जानकारी होना चाहिए ।
  • इसके बाद आपका नाम, DOB , पेरेंट्स का नाम और Address होना चाहिए।
  • इसके बाद आपके साइन और जगह का नाम एवं दिनांक के साथ होना चाहिए।

CV के जरिये आप आप Interview लेने वाले व्यक्ति को अपनी Quality के बारे में भी बता सकते हैं। और यह भी बता सकते हैं आप कंपनी के लिए किस प्रकार सहायक होंगे। अगर आप Attractive CV बनाते हैं तो इसके बाद ही कंपनी आपको Interview के लिए बुलाती है। और CV के आधार पर ही Interview में आपसे प्रश्न पूछे जाते हैं।

CV या Resume बनाते समय इन सभी बातों का ध्यान रखना चाहिए। कुछ लोग ये सोचते हैं कि CV और Resume का कोई विशेष महत्व नहीं होता। लेकिन यह सोच बिल्कुल गलत है। CV से व्यक्ति का एक अलग ही प्रभाव पड़ता है। इसलिए CV या Resume बहुत सोच समझ कर और Format में बनाना चाहिए। आज के समय में जॉब के लिए लोग इतने परेशान हैं कि एक या दो पोस्ट या Vacancy के लिए 1000 से भी ज्यादा लोग Apply करते हैं। और इस Competition में अगर आपका Resume या CV भी सही नहीं है तो फिर यह जॉब भी आपके हाथ से जा सकती है।

क्या CV अच्छा होने से ही जॉब मिल जाती है

कुछ लोग ये सोचते हैं कि Resume या CV जॉब के लिए कोई मतलब नहीं रखता तो कुछ लोग ये सोचते हैं कि सिर्फ Resume ही सब कुछ होता है। लेकिन ये दोनों ही सोच बहुत गलत हैं। Resume के साथ-साथ आपको आपके CV में लिखी हुई सारी चीज़ें भी आना चाहिए और उन प्रश्नों के उत्तर भी आना चाहिए जो आपसे Interview लेने वाले द्वारा पूछे जायेंगे।

CV का फॉर्मेट

CV का फॉर्मेट बहुत मायने रखता है। CV तैयार करने के लिए कई Format होते हैं। इन Format के अनुसार CV को तैयार कर सकते हैं।

  • Chronological CV
  • Functional CV
  • Combined CV

ये CV की जानी मानी Format है आप इनके कॉम्बिनेशन बना कर भी CV बना सकते हैं। इनमें से Chronological CV या Performance CV सबसे ज्यादा प्रयोग में लाया जाता है। इस प्रकार के CV में कार्य के अनुभव के ऊपर ध्यान आकर्षित किया जाता है। इसमें सबसे पहले आपकी वर्तमान नौकरी के बारे में लिखा जाता है। इसके बाद आपके अन्य कार्य के बारे में लिखा जाता है मतलब Reverse क्रम को Follow किया जाता है।

Freshers हमेशा CV और Resume को लेकर परेशान रहते हैं। Freshers के लिए कुछ बातें ध्यान रखने योग्य रहती हैं जैसे:

  • CV में अपनी Skills को ऐसे प्रदर्शित करें कि कंपनी को लगे कि वो उनके लिए काम आ सकती हैं।
  • सही CV Format का चुनाव करें इसके लिए किसी Experience की मदद ले लें।
  • अपने कार्य अनुभव और प्रमुख उपलब्धियों को जरूर CV में लिखें।
  • ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन के दौरान जो भी प्रोजेक्ट अपने बनाये हैं उसके बारे में जरूर लिखें।
  • एजुकेशन और प्रतिशत लिखना कभी न भूलें।

Chronological CV Format

  • Contact Information
  • Resume Summary
  • Professional Title
  • Work Experience
  • Skills
  • Education
  • Additional Sections

Functional CV Format

  • Contact Information
  • Resume Summary
  • Professional Title
  • Skills Summary
  • Additional Skills
  • Work Experience
  • Education

Combination CV Format

  • Contact Information
  • Skills Summary
  • Additional Skills
  • Work Experience
  • Education

इन सभी Format में CV बनाना आसान होता है। और इनके Sample आसानी से ऑनलाइन मिल जाते हैं। CV को बहुत ज्यादा बड़ा नहीं बनाना चाहिए जितने कम शब्दों में आप अपनी Quality को समझायेंगे उतना ज्यादा अच्छा होगा। लेकिन Skills को add करना ने भूलें।

CV बनाने का मंत्र

CV बनाना आसान नहीं है एक Proper Format  इसके लिए फॉलो करना होता है। CV को एक तरह से आपका फर्स्ट Impression कह सकते हैं।

Achievement और Experience को जरूर लिखें

आपके जो भी Achievement और Experience है उन्हें लिखें और लेकिन ध्यान रखें कि बहुत जयदा Achievement और Experience भी नहीं लिखना है। वही लिखना है जिसकी उस Particular जॉब के लिए जरुरत हो। हमेशा वही Quality Interview लेने वाले व्यक्ति को दिखाना चाहिए जिसकी Requirement कंपनी को है। इससे आपके Select होने के संयोग बढ़ जायेंगे। जो भी लिखें सोच समझ कर लिखें। आप जो भी Achievement और Experience अपने CV में लिख रहे हैं उससे जुड़े हुए प्रश्न उत्तर भी तैयार कर लें क्योंकि Interview में इससे जुड़े हुए प्रश्न ही आपसे पूछे जायेंगे।

प्रतिशत हमेशा सही लिखें

कुछ लोग Interview में शामिल होने के लिए गलत प्रतिशत का सहारा लेते हैं लेकिन ऐसा करना गलत है। आप हमेशा अपने CV में सही प्रतिशत ही लिखें। मान लीजिये आप Select हो गए और कंपनी ने आपके दस्तावेज मांगे और आपके प्रतिशत CV के प्रतिशत के समान नहीं हुए तो कंपनी आपको जॉब नहीं देगी। इसलिए इस बात का ध्यान रखें।

संक्षिप्त जानकारी

आप जो भी जानकारी दे रहे हैं उसे संक्षिप्त में दें। लेकिन ज्यादा जानकारी आपसे जॉब छीन सकती है। Interview लेने वाला व्यक्ति आपके बारे में उतना ही जानना चाहता है जो कंपनी के हित में होगा, इससे ज्यादा इंटरव्यू लेने वाला व्यक्ति कुछ और नहीं जानना चाहता। अगर आप ज्यादा ही जानकारी दे देंगे तो Interview लेने वाला व्यक्ति आपका CV पढ़कर परेशान हो जायेगा और हो सकता है वह आपका Interview न लें।

CV के बिना नौकरी संभव है या नहीं

CV सिर्फ एक ऐसा दस्तावेज होता है जिसमें व्यक्ति की उतनी Information होती है जो व्यक्ति के Skills और Experience को बताती है। और इससे ही जुड़े हुए प्रश्न कंपनी द्वारा Candidate से पूछे जाते हैं। लेकिन ऐसा कहना सही नहीं है कि बिना CV के किसी व्यक्ति को जॉब नहीं मिल सकती फिर भी आज के समय में CV होना बहुत जरुरी माना जाता है। CV होने से कंपनी आपके बारे में समझ पाती है।

अगर आप उस जॉब के लिए सही Candidate हैं तो आपको Interview के लिए बुलाती है। CV को किसी भी Interview की पहली स्टेप कहा जा सकता है। वैसे तो हर जगह ही CV बहुत जरुरी होता है लेकिन कुछ जगह जरुरी नहीं भी होता। वैसे तो नौकरी मिलना आपके Skills पर निर्भर करता है। लेकिन 90 प्रतिशत आपको प्रेजेंट CV द्वारा किया जाता है।

CV बनाने का तरीका

  • CV बनाने के लिए तीन बातों का विशेष ध्यान रखें। और इनकी ही ध्यान में रखकर आप CV बनाएं
  • CV में क्या लिखें?
  • CV का कंटेंट कैसे लिखना चाहिए?
  • CV का फॉर्मेट – कंप्यूटर में MS Word / PDF में CV बनाएं।

क्या ग़लतियाँ होती हैं CV बनाते समय

  • CV बनाने की सही जानकारी न होने के कारण लोग कई प्रकार की ग़लतियाँ कर देते हैं। जैसे:
  • कई लोग CV में अपनी Contact Information नहीं देते।
  • कई लोग अपने प्रतिशत या तो गलत लिखते हैं या फिर अपने स्कूल और यूनिवर्सिटी का नाम नहीं लिखते।
  • कई लोग अपनी Skills और Experience के बारे में गलत जानकारी देते हैं या इसके बारे में लिखते ही नहीं हैं।
  • कुछ लोग 2-3 वाक्य में ही CV बनाकर End कर देते हैं।
  • कुछ लोग 4-5 पेज का CV बनाते हैं जैसे कि Bio Data हो। और इसी वजह से वे Interview में Select नहीं हो पाते।
  • ये ग़लतियाँ कभी भी भूल कर न करें। ये छोटी-छोटी गलतियाँ भी आपको जॉब से दूर कर सकती हैं।

CV कैसे है सहायक

CV एक जॉब पाने के लिए बहुत सहायक होता है। CV पहला चरण होता है जब आप किसी जॉब के लिए Apply करते हैं तो आप सबसे पहले CV अपलोड करते हैं। जिससे कि Recruiters आपके बारे में जान पाते हैं। और अगर आपकी Qualification , Experience और Skills अगर जॉब प्रोफाइल से मैच होता है तो आपको Interview के लिए बुलाते हैं।

इसलिए CV एक नौकरी के लिए बहुत ही सहायक है। CV के प्रति हमेशा सचेत रहना चाहिए और जॉब के लिए रुमे भेजने से पहले अपने CV पर एक नज़र डालना चाहिए कि आपने कहीं कुछ गलत तो नहीं लिख दिया है। और जब आप Interview में जाये तो भी इस बात पर ध्यान दें कि आपका CV अपडेट हो।

Tips

दोस्तों हमे उम्मीद है आज का ये पोस्ट आपके लिए सहायक साबित होगा अगर आप भी एक अच्छी CV बनाने जा रहे है तो ऊपर बताई गई बातों का ध्यान रखे i hope cv क्या है इसका Full Form क्या होता है (Full Form Of CV) आपको पता चल गया होगा यदि ये जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करे! Thanks For Reading.

नमस्ते, मेरा नाम Samir है मै HFT का Co-Author & Founder हु मुझे हमेशा से नयी चीजे सिखने तथा उन्हे लोगो के साथ शेयर करना पसंद है. क्योकि मैं भी आपकी तरह ही हु. अगर आपको हमारा काम पसंद आता है तो हमे सोशल साईट पर फॉलो कर सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here