क्या है कोरोना वायरस? जानिए इसके लक्षण और बचने के उपाय!

Corona Virus Kya Hai – वैसे तो दुनिया में तरह-तरह की लाइलाज बीमारियाँ फैली हुई हैं लेकिन हाल ही में जिस बीमारी ने पूरे विश्व में तहलका मचा रखा है वह है कोरोना वायरस। एक ऐसा संक्रमण जो रुकने का नाम ही नहीं ले रहा और दिनोदिन बढ़ता ही जा रहा है। एक देश से दूसरे देश तक फ़ैल रहा यह वाइरस आज खौफ का सबसे बड़ा कारण बन गया है। हर देश इस कोरोना वायरस की चपेट में है और लोग इस महामारी से लड़ रहे हैं। एक ऐसी बीमारी जो हवा में फ़ैल रही है न आप किसी को छू सकते हैं न किसी से बिना मास्क के बात कर सकते हैं। कोरोना वायरस ने आज करोड़ों लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है और नष्ट होने का नाम ही नहीं ले रही है। इसका इलाज संभव ही नहीं हो पा रहा है। लेकिन इससे बचने के उपाय हैं।

Corona Virus Kya Hai? तो बात दे कि कोरोना वायरस एक ऐसा वायरस है जो चीन के शहर वुहान से प्रारम्भ हुआ और अब 122 देश इस वायरस की चपेट में हैं। कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या हजारों लाखों में जा चुकी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया है क्योंकि यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलती जा रही है। ये 122 देशों की सरकारें कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता फ़ैलाने में लगी हुई हैं। जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इससे बचाया जा सके। कोरोना वायरस हो जाने पर इससे बचना मुश्किल है लेकिन इसकी रोकथाम जरुरी है। कोरोना वायरस के लक्षण को पहचानकर इससे बचना संभव है।

विषय सूचि

Corona Virus Kya Hai? (COVID-19)

corona virus (covid-19)

यह कोरोना वायरस एक नए प्रकार का वायरस है जिसे पहले कभी नहीं देखा गया। इस संक्रमण में जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी परेशानियाँ व्यक्ति को होती हैं। कोरोना वायरस चीन से शुरू हुआ एक ऐसा वायरस है जिसको नष्ट करने के लिए कोई टीका नहीं बना हुआ है। WHO ने बताया कि इसमें सांस लेने में तकलीफ, बुखार, खांसी होती है। ये इसके लक्षण हैं।

Corona Virus के लक्षण – Symptoms Of Corona Virus

कोरोना वायरस के लक्षण फ्लू जैसे ही होते हैं। इसके संक्रमण के लक्षण कुछ इस प्रकार हैं: बुखार आना, जुकाम होना, गले में खराश होना, खांसी आना, सांस लेने में तकलीफ होना, लगातार नाक बहना इत्यादि। यह लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता जाता है। इससे बचने के कुछ उपाय है लेकिन इसका इलाज या टीका अभी तक नहीं आया जो कोरोना वायरस से बचा सके। कोरोना वायरस के लक्षण उन लोगों में अधिकतर देखने को मिल रहे हैं जो कम उम्र या अधिक उम्र के हैं एवं जिन्हें डायबिटीज़, अस्थमा या फिर हृदय सम्बन्धी बीमारी है।

Corona Virus से बचने का उपाय

कोरोना वायरस से बचने के उपाय की खोज लगातार हो रही है। अभी स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार इससे बचने के लिए कुछ निर्देश जारी किये हैं जैसे: अल्‍कोहल आधारित हैंड सेनेटाइजर का प्रयोग, बार-बार हाथों को साबुन या पानी से धोना, हाथों से मुँह, नाक और कान को छूने से बचना, पानी को उबाल कर पीना, खांसते या छींकते समय मुँह को रुमाल या फिर टिशू पेपर से ढकना, मास्क का प्रयोग करना, अंडे और मांस के सेवन से बचना, जिन्हें सर्दी और जुखाम है उन व्यक्तियों के संपर्क में आने से बचना, जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचना इत्यादि। इस तरह से आप कोरोना वायरस से बच सकते हैं।

Corona Virus के भारत में मामले

भारत में कोरोना वायरस के लगभग 73 मामले देखने को मिले हैं। भारत के 12 से ज्यादा राज्यों को कोरोना ने अपनी चपेट में ले लिया है। कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले केरल में देखने के लिए मिले हैं। केरल में 17, महाराष्ट्र में 11, यूपी में भी 10 एवं दिल्ली में 6 लोगों के अंदर कोरोना वायरस के लक्षण देखने के लिए मिले हैं। कोरोना से जुडी हुई कुछ अहम् बातें भी हम देखेंगे

  • दुनिया भर में कोरोना के संक्रमण से मरने वालों की संख्या लगभग 4600 पहुँच चुकी है। और हर दिन कोरोना के नए मरीज सामने आ रहे हैं दिनोदिन यह संख्या बढ़ती जा रही है।
  • ईरान में लगभग 92 और दक्षिण कोरिया में 32 व्यक्तियों की मृत्यु इस कोरोना वायरस के कारण हो चुकी है। ये संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है।
  • इटली में कोरोना वायरस के लगभग 366 मरीज सामने आये जिनकी मृत्यु हो गई। और अभी भी कई मरीज जीवन और मृत्यु से जूझ रहे हैं।
  • चीन के हुबेई प्रांत मे अब कोरोना से संक्रमित लोगों कि संख्या लगभग संख्या 88,466 पहुँच गई है वही मरने वालों की संख्या लगभग 3200 पहुँच गई है।
  • पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या लगभग 1,26,000 से ज्यादा हो गई है।

कोरोना पर काबू पाना अब एक चुनौती के सामान है

विश्व का हर देश कोरोना वायरस की दवा के लिए खोज एवं शोध कर रहा है लेकिन किसी भी प्रकार की दवा इसके लिए नहीं बन पायी है। जो भी देश कोरोना वायरस की चपेट में हैं वे सभी हर प्रकार से इस पर काबू पाने की कोशिश कर रहे हैं। चीन और कई देश भी इसे रोकने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रहा है। इसकी संख्या घटने की वजाय बढ़ती जा रही है। जापान, थाईलैंड, इटली, ईरान,  सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, भारत, जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, मलेशिया,  फ्रांसऔर संयुक्त अरब अमीरात ये सभी देश कोरोना वायरस की चपेट में हैं इनके साथ 122 देश कोरोना वायरस से संक्रमित हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के उपाय

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस से बचने के लिए कुछ बातें बताई हैं। इन उपाय से इस संक्रमण से बचाव किया जाना संभव है।

  • हाथों को बार-बार पानी या साबुन से धोएं। पानी नहीं है तो अलकोहल वाले सेनिटीज़र से हाथों को साफ़ करते रहे।
  • मास्क का इस्तेमाल करें।
  • खांसते और छींकते समय अपना मुँह रुमाल या टिशु से ढँक लें।
  • जुखाम, खांसी और बुखार वाले व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें।
  • मांस एवं अंडे का सेवन न करें।
  • जंगली जानवरों से दूर रहे।
  • टिशु को उपयोग करने के बाद कचरे के डिब्बे में ही डालें।

ये कुछ उपाय हैं जो WHO द्वारा बताये गए हैं इनका पालन करें।

Corona Virus की ताजा खबरें!

भारत सरकार के द्वारा जारी की गई एडवाइज़री

भारत सरकार ने कोरोना वायरस के लिए एडवाइज़री जारी की है। भारत सरकार ने कोरोना वायरस का पता चलते ही स्वास्थ्य केंद्र को सुचना देते हुए 24 घंटे चलने वाला कंट्रोल रूम तैयार करने के निर्देश दिए। और इसे जल्दी ही तैयार करवाया गया। कंट्रोल रूम में संपर्क करने के लिए फ़ोन नंबर 011-23978046 एवं मेल आईडी ncov2019@gmail।com जारी किया गया है। इसके द्वारा कोरोना वायरस के लक्षणों एवं आशंकाओं की जानकारी ली जा सकती है।

चीन और इटली में कोरोना वायरस का सबसे अधिक असर

चीन और इटली में कोरोना वायरस का सबसे अधिक देखा जा रहा है। वही चीन की अर्थव्यवस्था पर इसका बहुत अधिक असर पड़ा है। पहले से ही चीन की अर्थव्यवस्था पिछड़ी हुई थी और अब कोरोना वायरस की वजह से चीन को बहुत अधिक परेशानियों से गुजरना पड़ रहा है। 18 साल पहले सार्स वायरस के द्वारा भी इसी प्रकार के हालत पैदा हुए थे। पूरी दुनिया 2002-03 में सार्स वायरस के कारण लगभग 700 से ज्यादा व्यक्तियों की म्रत्यु हुई थी। वही चीन में इसके कारण लगभग 800 लोगों की म्रत्यु सार्स वायरस के कारण हुई है।

व्यक्ति के बाल से 900 गुना छोटा होने के बाद भी खतरनाक है कोरोना वायरस

जी हाँ कोरोना वायरस व्यक्ति के बाल से 900 गुना छोटा है इसके बाद भी इतना अधिक खतरनाक है। इस इतने छोटे से वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकार मचा रखा है। पूरी दुनिया आज इस छोटे से वायरस से डरी हुई है क्योंकि ये बहुत ही अधिक प्रभावित कर रहा है। इसके द्वारा लगातार हो रही मृत्यु ने लोगों को डरा रखा है।

पूरे विश्व में स्कूल एवं कॉलेज बंद

15 मार्च तक पूरे विश्व में कई देशों में स्कूल और कॉलेज को बंद किया गया है जिससे कि लोगों में फ़ैल रहे वायरस से बचा जा सके। हजारों लोगों की मौत की वजह से देशों की सरकारें परेशान हैं और वे इस वायरस से बचने के लिए कई प्रकार के कदम उठा रहे हैं। कई डॉक्टर को कोरोना वायरस के मरीजों की देख भाल में लगे हुए हैं लेकिन इस महामारी को रोका जाना मुश्किल हो रहा है। लोगों तक इसके लक्षणों के बारे में जानकारी पहुंचाई जा रही है और इससे बचने के तरीकों के बारे में बताया जा रहा है। बच्चे और बुजुर्ग इस बीमारी से बहुत अधिक संक्रमित हो रहे हैं।

कई यात्राओं को रद्द करने के लिए नियम लागू

लोगों को कई जगहों की यात्रा रद्द करने की सलाह दी जा रही है। क्योंकि हो सकता है वो वहाँ से देश में कोरोना वायरस लेकर आये। वैसे तो विदेश से आने वाले यात्रिओं की जाँच की जा रही है उसके बाद ही उन्हें देश के अन्दर आने दिया जा रहा है। इसके साथ ही भारत के प्रधानमंत्री मोदी जी ने भी अपनी बांग्लादेश की यात्रा को रद्द किया है।

Corona Virus के बारे में वैज्ञानिकों की राय

कोरोना वायरस के बारे में वैज्ञानिकों ने कहा है कि इसके लक्षण सामने आने में कम से कम पाँच दिनों का समय लगता है। लेकिन कुछ लोगों के अन्दर इसके लक्षण दिखने में ज्यादा समय लगता है।

14 दिनों तक इस वायरस के लक्षण रहते हैं लेकिन इसका कोई इलाज नहीं है।

क्या Corona Virus से ठीक होने वाले दुबारा संक्रमित नहीं होंगे?

ऐसा कहना अभी सही नहीं होगा कि जो व्यक्ति कोरोना वायरस से ठीक हो गए हैं वे फिर से संक्रमित नहीं होंगे।  इस वायरस ने दिसम्बर 2019 से अपना प्रकोप फैलाना शुरू किया और अब ये पूरे विश्व में फ़ैल रहा है। लेकिन ऐसा कहा जा सकता है कि इस वायरस से ठीक होने के बॉस फिर से इससे संक्रमित होने की सम्भावना थोड़ी कम है। लेकिन इसके बारे में पक्के तरह से कुछ भी कहना मुश्किल है।

भारत ने कई देशों के वीजा पर लगाई रोक

भारत ने कोरोना वायरस के चलते अपने देश के नागरिकों को इस वायरस से बचने के लिए कई देशों के वीजा पर रोक लगायी और कई देशों के लोगों को भारत का वीजा देने पर भी रोक लगाई है। भारत सरकार ने इस तरह के कई नियम लागू किये हैं। और ये नियम देश के नागरिकों के हित के लिए ही लागू किये गए हैं। यह कदम उठाना बहुत ही जरुरी है। इस समय कई देश वायरस को लेकर बहुत ही विकत स्थिति में हैं।  भारत में कोरोना वायरस को एक महामारी घोषित किया क्योंकि WHO के द्वारा भी इसे महामारी कहा गया है।

फ़्लू और Corona Virus में अंतर

फ़्लू और कोरोना वायरस में बहुत अंतर है लेकिन इनके लक्षण एक ही जैसे होते हैं जैसे बुखार आना, जुखाम होना, नाक बहना, सांस लेने में तकलीफ होना। कई लोग कोरोना वायरस को फ्लू समझ रहे हैं और फ्लू को कोरोना वायरस इसलिए यह सलाह दी जाती है कि अगर कोई भी लक्षण दिखाई दें तो इसकी जाँच करवाएं। जिससे यह पता चल जाये कि यह कोरोना है या फिर फ्लू।

किसको है सबसे अधिक खतरा

Corona Virus Kya Hai ये तो हम जान गए लेकिन इससे खतरा किसको है? कोरोना वायरस का सबसे अधिक खतरा बुजुर्ग और बच्चों में देखा जा रहा है। इसके साथ ही जिन लोगों को मधुमेह, अस्थमा या फिर कोई ह्रदय रोग है उन्हें यह वायरस बहुत ही जल्दी घेर रहा है। इसलिए अस्थमा मरीजों को विशेष ध्यान रखने की सलाह दी जाती है और इन्हेलर का इस्तेमाल करने के लिए कहा जा रहा है। वैसे ही मधुमेह और ह्रदय रोग वाले व्यक्तियों को विशेष ध्यान रखने की सलाह दी जा रही है।

Tips

तो दोस्तों Corona Virus Kya Hai? ये आपको पता चल गया होगा इसलिए हर जगह पर चीज़ों को छूने से बचना बहुत जरुरी है जैसे हैंडल, फ़ोन, ऑफिस में टेबल और भी कई चीज़ें। इसलिए सार्वजानिक जगहों पर व्यक्तियों के संपर्क में आने से बचें साथ ही कई सार्वजानिक चीज़ों को छूने से बचें। कोरोना वायरस किसी भी तरह से अस्तित्व में आ सकता है तो इससे बचना बहुत ही जरुरी है जो हम जागरूक रहकर कर सकते हैं।

Read More

Virus का Full Form क्या होता है? – Virus Full Form in Computer [Hindi]

नमस्ते, मेरा नाम Samir है मै HFT का Co-Author & Founder हु मुझे हमेशा से नयी चीजे सिखने तथा उन्हे लोगो के साथ शेयर करना पसंद है. क्योकि मैं भी आपकी तरह ही हु. अगर आपको हमारा काम पसंद आता है तो हमे सोशल साईट पर फॉलो कर सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here