कंप्युटर का फुल फॉर्म क्या होता है?

क्या आप ये जानते है Computer का Full Form क्या होता है? शायद जवाब होगा नहीं! क्योंकि इससे पहले कभी आपके मन मे ऐसा सवाल नहीं आया होगा क्योंकि बहुत से लोग अभी इस बात से परिचित ही नहीं है हालांकि इंटरव्यू के दौरान कुछ शिक्षक के द्वारा ऐसे सवाल पूछ भी लिए जाते है।

मगर उस समय जानकारी ना होने के कारण हम उत्तर नहीं दे पाते है लेकिन आज के पोस्ट मे हम आपको Computer का Full Form जरूर बताएंगे ताकि दुबारा जब आपके सामने इससे संबंधित सवाल आए तो आप उनका जवाब बड़े ही आसानी के साथ दे पाए तो चलिए जानते है (Computer Full Form In Hindi) कंप्युटर का फुल फॉर्म क्या होता है

Computer का पूरा नाम अथवा Full Form क्या होता है?

computer ka full form bataye

Computer का Full Form होता है “Commonly Operated Machine Particularly Used in Technical and Educational Research”.

हालांकि जिन वर्ड के फुल फॉर्म बताए गए है या देखने को मिलते है ये आधिकारिक तौर पर Standardized नहीं है। क्योंकि इस हिसाब से देखा जाए तो इसके और भी full form निकल के आते है। जैसे –

  • Common Operating Machine Particularly Used for Trade, Education, and Research
  • Common Operations Made Possible Under Technical Engineering Researches
  • Commonly Operating Machine Particularly Used for Technical and Education Research
  • Common Operating Machine Particularly Used for Technical, Education and Research
  • Common Oriented Machine Particularly Used for Trade Education and Research
  • Common Operating Machine Particularly Used for Training, Education, and Reporting
  • Computing Oriented Manipulation Programming Used in Technology Education and Research
  • Commonly Oriented Machine Particularly Used for Trade Education and Research
  • Common Oriented Machine Purely Used for Technical and Educational Research
  • Commonly Operated Machine Particularly Used in Technical Education and Research
  • Capable Of Making Perfectly Uncomplicated Tasks Extremely Rigorous
  • Complicated Office Machine Put Under Tremendous Effort to Reduce manpower
  • Common Operating Machine Particularly Used For Trade Education And Research
  • Common Operating Machine Particularly Used For Technical And Research

कंप्युटर को हिन्दी मे क्या कहते है?

कंप्युटर को हिन्दी मे “संगणक” कहा जाता है जिसका अर्थ होता है गणना करना, दोस्तों आज हम 21 वी सदी में जी रहे हैं। 21 वी सदी कई मायनों में बेहद खास है। यह पहली सदी है, जहां इंसानी ताकत किसी भी काम के लिए उतनी अहम नही है क्योंकि आज मशीनों के द्वारा अधिकांश काम हो रहे हैं। आज मशीन और रोबोट आदि के जरिए अधिकतर कंपनी काम करती है, जिससे उनका काम अधिक कुशलता और तेजी से हो रहा है।

रोबोट का इस्तेमाल तो आजकल मेडिकल साइंस भी करने लगी है। कई जगहों पर रोबोट ने ऑपरेशन किए हैं। जापान में कुछ ऐसे होटल्स हैं, जहां वेटर का काम रोबोट करते हैं। पिछली सदियों की तुलना में 21 सदी इतनी एडवांस हैं, इसका सबसे बड़ा कारण है Computer.

पिछले 60 सालों में हम लोगो ने जितनी ज्यादा तरक्की की, उसका एक बड़ा कारण है Computer । आज शायद ही कोई ऐसा फील्ड होगा, जहां पर Computer का उपयोग न हो रहा हो। Computer ने हमारे जीवन को किस तरह से बदला है, इसका एक उदाहरण यह है कि Computer के पहले किसी भी चीज़ को बनाने के पहले उसका प्रोटोटाइप बनाना होता था। फिर उस पर सभी तरह के टेस्ट किए जाते थे।

लेकिन आज ऐसा नही होता है। सबसे पहले डिज़ाइन बनाकर उनका टेस्ट Computer में ही किया जाता है, उसके बाद प्रोटोटाइप बनाया जाता है। ऐसा ही हर तरह के रिसर्च में होता है। दोस्तों यह बात सच है कि आज Computer बहुत उन्नत हो चुका है और आगे भी इसको और उन्नत बनाने की कोशिश हो रही है। लेकिन Computer की यह यात्रा भी बहुत रोचक रही है।

पहले Computer से लेकर आज के आधुनिक Computer का सफर भले ही जल्दी तय हो गया हो, लेकिन इसका सफर बड़ा ही रोचक रहा है। चलिए, Computer का सफर जानने के पहले Computer के बारे में जान लेते हैं।

Computer  क्या है?

दोस्तों Computer का Full Form तो आप जान गए चलिए जानते है ये है क्या? यदि आसान भाषा मे कहूँ, तो Computer एक गणना करने की मशीन हैं जिसमे हम इनपुट के तौर पर Computer में कुछ इनफार्मेशन डालते हैं, उसके बाद Computer उस इनफार्मेशन के ऊपर काम करता है और एक रिजल्ट तैयार करता है और आउटपुट के तौर पर वह रिजल्ट को हमें दिखाता है। Computer शब्द ‘compute’ के जरिए बना है, जिसका मतलब ही गणना करना होता है। Computer के आगमन के साथ ही हम इंसानों के कई काम बहुत आसान हो गए हैं।

Computer  कैसे बनता है?

दोस्तों Computer मुख्य रूप से दो चीजों का मिलाजुला रूप है। इन्ही दो चीज़ों के अंतर्गत ही Computer के समस्त पार्ट आते हैं। Computer Hardware और Software से मिलकर बना होता है।

अब हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर क्या होता है? तो आपको बता दें कि Computer में उपस्थित हर वह चीज़ जिसको आप अपने हाथों से छू सकते हैं वह हार्डवेयर के अंदर आते हैं। वहीं जो हम छू नही सकते हैं वह सॉफ्टवेयर कहलाता है।

Computer  का रोचक इतिहास

दोस्तों आजकल भले ही आप Computer को अपने साथ लेकर चल सकते हैं या यूं कहें कि अपनी जेब मे लेकर चल सकते हैं क्योंकि स्मार्टफोन भी एक Computer ही है। लेकिन यह हमेशा से ऐसा नही था। दोस्तों जो पहला Computer बना था उसकी साइज एक कमरे के बराबर थी। लेकिन उसके बाद से कई नई-नई खोजें हुई जिन्होंने Computer को पूरी तरह से बदलकर रख दिया। तो चलिए देखते हैं Computer की यात्रा:-

  1. 1801 में फ्रांस के जोसेफ मैरी ने एक वुडेन कार्ड तैयार किया था, जो आटोमेटिक फैब्रिक को डिज़ाइन कर देता था। पहला Computer भी इसी तरह के पंच कार्ड का उपयोग करते थे।
  2. 1822 में एक इंग्लिश गणितज्ञ चाल्स बैबेज ने स्टीम से चलने वाला एक कंप्यूटिंग डिवाइस बनाया था। यह डिवाइस ऐसा डिवाइस था जो कि टेबल में लिखे नंबर को जोड़ देता था। हालांकि उस दौर में इस मशीन को एक असफल मशीन करार दिया था, लेकिन फिर भी दुनिया का पहला Computer बनकर तैयार हो चुका था।
  3. 1890 में एक पंच कार्ड बनाया गया। इस पंच कार्ड की मदद से 1880 की जनगणना को बहुत ही जल्दी पूरा कर लिया था और सरकार के बहुत पैसे बचाए थे। इस तरह से पंच कार्ड बना।
  4. 1936 में एक मशीन बनाई गई, जो किसी भी तरह की गणना को करने में सक्षम थी। इस मशीन का नाम टर्निंग मशीन था। मॉडर्न Computer की थ्योरी इसी मशीन के कांसेप्ट पर निर्भर है।
  5. 1937 में पहली बार एक ऐसा Computer  बनाने की कोशिश की गई जिसमें न तो गियर था, न ही कैम था, न ही बेल्ट था, और न ही शाफ़्ट। इसके पहले जो भी मशीन बनती थी उसमें ये सब लगे होते थे।
  6. 1941 में एक ऐसा Computer  बनकर तैयार किया गया था जो एक साथ 21 समीकरण को सॉल्व कर सकता था। यह पहला Computer  था जो कि मेन मेमोरी में डेटा स्टोर कर सकता था।
  7. 1943-1944 में असल मे पहला Computer  बना था जो कि 18000 वैक्यूम ट्यूब से मिलकर बना था। इस Computer  को रखने के लिए 20 फुट बाई 40 फुट के एक कमरे की जरूरत पड़ती थी। यह पहला Computer  था जिसमे Electronic Numerical Integrator and Calculator का उपयोग किया गया था। यही से Digital Computer की शुरुआत हुई।
  8. 1947 में पहली बार ट्रांजिस्टर बना था, जिसके बाद स्विच बनी और वैक्यूम ट्यूब से छुटकारा मिला।
  9. 1953 में पहली Computer की भाषा COBOL बनी थी।
  10. 1958 में पहली इंटीग्रेटेड सर्किट का निर्माण किया गया था, जिसको Computer चिप का नाम दिया गया था।
  11. 1964 में पहले मॉडल Computer को बनाया गया था, जिसमे माउस था। इसके साथ ही इसमे ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस का इस्तेमाल भी पहली बार किया गया था।
  12. इसके बाद Computer में कई छोटे-छोटे बदलाव आते रहे और 1970 में पहला पर्सनल Computer बनकर तैयार हुआ था। हालांकि उस वक़्त इनका निर्माण बहुत ही सीमित था, लेकिन बाद में इनके निर्माण में तेजी आई।

इसके कुछ वर्ष बाद ही यानी 1973 में पहला पोर्टेबल Computer बनाया गया जिसे लैपटॉप का नाम दिया गया। यह Gavilan SC लैपटॉप था। लैपटॉप के आने के बाद से Computer की पॉपुलैरिटी और अधिक बढ़ने लगी। Computer की पहुँच भी धीरे-धीरे आम लोगों तक होती चली गई। इसके बाद स्मार्टफोन भी ऐसे आने लगे जो Computer में होने वाले अधिकतर कामो को कर सकते हैं।

Tips

आज के समय में इंसान ने सफलता की जिस सर्वोच्चता को प्राप्त किया है, उसमे कम्प्यूटर का योगदान सबसे ज्यादा है। दोस्तों हमे उम्मीद है आज के पोस्ट से आपको जरूर कुछ नई जानकारी हासिल हुई होंगी। अगर आपको Computer का Full Form, कंप्युटर क्या है इसका इतिहास से संबंधित ये जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करे ताकि उनको भी सही जानकारी हो सके। Thanks For Reading.

Join our telegram channel

Read More

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here