AI क्या है? इसका फुल फॉर्म क्या होता है

AI Full Form In Hindi – दोस्तों इस धरती पर इंसानो को सबसे बेहतरीन बनाने वाली चीज़ है, उनकी Intelligence, यानि की बुद्धि। इंटेलिजेंस से ही इंसानों ने अपनी skills को improve करके technology के क्षेत्र में इतना विकास किया है। Human brain का यूज़ कर इंसानो ने कई invention यानी अविष्कार किये हैं । जब computers बने थे तो किसी ने सोचा तक नही था कि हम फ्यूचर में smartphone जैसी किसी चीज का यूज़ करेंगे ।

पिछले कुछ सालों में technology को एक अलग लेवल  में ले जाने के लिये Computer science के कुछ साइंटिस्ट ने अर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कन्सेप्ट को दुनिया के सामने रखा था। इसका मेन मकसद ऐसे कंप्यूटर कंट्रोल्ड रॉबॉट या software बनाना था जो कि इंसानो की तरह सोच कर किसी भी प्रॉब्लम को सॉल्व कर सकें।

लेकिन कई दूसरे साइंटिस्ट का मानना है कि टेक्नोलॉजी में इस तरह के डेवलपमेंट मशीन्स को super intelligence बना सकता है। जो आगे चलकर इंसानों के लिए ही खतरा हो सकते हैं। Artificial intelligence या machine learning इंसानो के लिए कितनी फायदेमंद होगी यह तो आने वाला फ्यूचर ही बताएगा।

हम साइंस फिक्शन मूवीज़ में कई चीज़ें देखते हैं, जो फ्यूचर की टेक्नोलॉजी को दिखाती हैं । इनमें से एक अर्टिफिशियल इंटेलिजेंस होती है। वह काल्पनिक होती है, लेकिन रियल वर्ल्ड में यह टेक्नोलॉजी तेजी से बढ़ रही है।

AI क्या है – AI Full Form In Hindi

what is the full form of ai in hindi

AI का Full Form “Artificial Intelligence होता है। इंसान के अंदर एक ऐसी Intelligence शक्ति होती है जिसकी मदद से वह अपने आप कुछ ना कुछ सीखता रहता है जैसे- किसी चीज़ को देखकर, किसी आवाज़ को सुनकर और किसी को टच या महसूस करके इससे उसे यह पता चल जाता है की उसे अब क्या करना है। ठीक इसी प्रकार Automatic Machine और Robots के अंदर भी एक इंटेलिजेंस डवलप किया जाता है जिसे हम Artificial Intelligence कहते है।

Artificial Intelligence या कृत्रिम बुद्धिमत्ता computer science का एक area है, जिस में  मशीनों की इंटेलिजेंस पर काम किया जाता है, जिससे मशीन हम humans की तरह सोच सके और काम कर सके और action ले सके। उदाहरण के लिये, speech recognition, problem solving तथा learning और planning.

कुल मिलाकर Artificial Intelligence एक interdisciplinary concept है। जिस से   ऐसी machines बनाई जा रही हैं, जो अपने एनवायरमेंट के साथ इंटरैक्ट करके  रिसीव्ड डेटा पर खुद बुद्धिमानी से काम  कर सकती हैं।एक ऐसा computer controlled robot या एक ऐसा Software बनाने की योजना है, जो वैसे ही सोच सके जैसे human mind सोचता है और नए input के साथ तालमेल बैठा कर इंसान की तरह thinking, acting और learning कर सके।

फ्यूचर में Artificial Intelligence कन्सेप्ट पर बेस्ड रॉबॉट हमारे अच्छे दोस्त जैसा होगा। अगर आपको कोई प्रॉब्लम आयेगी तो उसके लिए क्या करना है यह आपको खुद सोच कर बतायेगा।

Artificial Intelligence  के साथ जुड़ी रिसर्च बहुत ही technical होती है। इसमें इनकी कई मेन प्रॉब्लम्स पर काम किया जाता है।जैसे :

  • Reasoning
  • Learning
  • Planning
  • Problem solving
  • Knowledge
  • Ability to move objects and manipulate
  • Perception

Machine learning क्या है?

Ai का Full Form और इसकी विशेषता आप जान गए चलिए अब मशीन लर्निंग के बारे मे जानते है। Machine learning भी Artificial intelligence का एक core part है। यह सिस्टम को अपने ही  एक्सपीरियंस  से ऑटोमेटिकली सीखने और इम्प्रूव करने की एबिलिटी  देता है और वह भी बिना कोई स्पेशल programming किये। यह कंप्यूटर प्रोग्राम्स के डेवलपमेंट पर फोकस करती है। जो डेटा को एक्सेस कर सके और उससे अपने आप सीख सके।

लर्निंग  की शरुआत ऑब्जरवेशन डेटा से होती है। इसमें कम्प्यूटर्स को खुद से ही , इंसान की हेल्प के बिना ही  ऑटोमेटिकली सीखने के लिए allow करना होता है।

Limitations of machine learning

मशीन लर्निंग की कुछ limitation है। जैसे की ऑब्जेक्ट  रिकॉग्नाइज़ेशन  या हैंडराइटिंग  रिकॉग्नाइज़ेशन  जैसी काम्प्लेक्स  प्रॉब्लम   को मशीन  लर्निंग  हैंडल  नहीं कर पाती है।और एक बड़ी प्रॉब्लम इसके साथ यह है कि लार्ज नंबर में इनपुट्स  और आउटपुट होने पर यह हाई  डायमेंशनल  डाटा  के साथ काम करने में यूज़फुल नहीं है।Machine Learning का एक इम्पोर्टेन्ट पार्ट है, deep learning

Deep learning क्या है?

डीप लर्निंग को deep neural network भी कहा जाता है। यह मशीन के लिए learning approach है, और यह इंसानो के नॉलेज लेने के अप्प्रोच के समान  है। जैसे की हम जानते हैं कि machine learning के कुछ limitation है, इस कमी को deep learning पूरा करती है।

Deep learning models सही features पर programmer की छोटी सी guidance के बाद अपने आप focus करने के लिए capable होते है।अगर आप के पास huge numbers में input output है, तो आप deep learning का यूज़ कर सकते हैं ।

How deep learning works

Neural Networks से deep learning का implement होता है। इसके पीछे का मोटिवेशन biological Neurons है। Deep learning में input layer और output layer के बीच में बहुत सारी hidden layers होती है। जहाँ सारी प्रोसेस होती है।

Types Of  Artificial Intelligence

Artificial Intelligence को AI भी कहते है और इसे दो भागों में divide किया गया है।

Weak AI

अगर हम बात करे Weak AI की तो इसको हम कहेंगे Artificial Narrow Intelligence. Weak AI कुछ इस तरह के intelligence है जो केवल एक specific device में ही अच्छे से काम कर सकते हैं।

For example: अगर आपका Computer Chess game खेलता है तो वो chess खेलने में expert है, cards game खेलता है तो वह cards खेलने में एक्सपर्ट है लेकिन उसके अलावा वह weak AI कुछ और काम नहीं कर सकता है। या फिर हम बात करें  Amazon, Flipkart जैसे Shopping Sites में जो recommendation नीचे आते है, अगर आप कुछ खरीदते हैं तो  ये अपना काम करने के लिए expert हैं । But ये chess game या cards game  नहीं खेल सकते  हैं । तो ऐसे Intelligence जो केवल एक Specific Area में काम कर सकते है उसे हम कहते है Artificial Narrow Intelligence.

अब आप जान ही गए होंगे कि Weak AI क्या होता है, कैसे काम करता है और यह क्यों एक ही device में केवल एक काम ही कर सकता है।

Strong AI

जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है कि यह एक स्ट्रांग इंटेलिजेंस है यह Weak AI कि तुलना में ज्यादा कैपेबल है। अगर हम बात करे इंसान के दिमाग का तो ये बहुत complicated है, इंसान के पास बहुत ज्यादा Common Sense है या फिर कहे की ऐसी Intelligence है जो एक machine में शायद पूरी नहीं आ सकती है।तो Strong AI जिसे हम Artificial General Intelligence भी कहते है, को कुछ कुछ इंसान के दिमाग जैसा ही बनाया गया है।

Strong AI ऐसा system है जहाँ पर इंसान का दिमाग और Machine दोनों लगभग बराबर होता है। यानि की जो काम आप कर सकते है, आप जो सोच सकते है और ऐसी बहुत सी common चीज़े है जो हम इंसान आराम से कर लेते है। अगर वो सब काम एक Robot या machine कर पाए तो उसे हम कहेंगे Strong AI या Artificial Wide Intelligence.

Applications of artificial intelligence

24/7 Availability

मशीनों को इंसानों की तरह लगातार ब्रेक और रिफ्रेशमेंट की जरुरत नहीं होती है। इसलिए इन्हे लंबे समय तक काम करने के लिए प्रोग्राम किया जा सकता है और यह बिना थके लगातार काम करने में efficient होती है। मशीनों का यूज़ करके, हम उस तरह के रिज़ल्ट्स प्राप्त कर सकते है जिनकी हम इंसानों से शायद उम्मीद भी नहीं कर सकते।

Daily Need

हमारी रोज़ की ज़रूरतों में, स्मार्टफोन इंसान के लिए रोटी, कपड़ा और मकान के बाद जीने के लिए फोर्थ सबसे इम्पोर्टेन्ट जरुरत बन गयी है। यदि आप स्मार्टफोन का यूज़ कर रहे है, तो आप इससे कई तरह के बेनीफिट्स ले सकते हैं। फिर वह चाहे  ड्राइव और ट्रेकिंग के लिए GPS यूज़ करना , डाटा अर्रेंज करना और स्मार्ट कार्ड आधारित लेन-देन करना आदि ।

डिजिटल हेल्प

बहुत से ऑर्गेनाइजेशंस  ने इस टेक्नोलॉजी का यूज़ करके अपने ग्राहकों के साथ बातचीत करने के लिए मशीनों को लागू कर दिया है जो कि एक डिजिटल हेल्पर है। हर बड़ी company के service section में chat bot   लगा होता  है, इसमें computer ही आप के questions के जवाब दे देता है। कई ऑर्गेनाइजेशंस अपने हेल्प लाइन नम्बर पर कस्टमर्स से बात करते हैं। इन मशीनों को जरुरत के हिसाब से ही प्रोग्राम किया जाता है।

रिपिटेटिव जॉब को संभालना

एक ही तरह के काम को बार-बार किया जाना बहुत ही थकान वाला होता है। AI एल्गोरिदम की मदद से इस तरह की नौकरियों को बहुत ही आसानी से संभाला जा सकता है। इन नौकरियों के लिए ज्यादा इंटेलिजेंस  की जरुरत नहीं होती है। मशीनें मनुष्यों की तुलना में बहुत तेजी से काम करती है और यह अच्छे रिज़ल्ट्स  पाने के लिए मल्टी-टास्किंग काम को भी कर सकती है। इसके साथ ही इन मशीनों को ऐसे कामों में भी यूज़ किया जा सकता है जहां इंसान के काम करने पर चोट लगने का डर हो।

Medical Application

Medical फील्ड में भी Artificial Intelligence से बहुत हेल्प मिली है। डॉक्टर, पेशेंट की हेल्थ की पूरी जानकारी रखना और उन्हें एनालाइज़ करके पेशेंट की हेल्थ की देखभाल करना आदि ।

Self Driving Cars

इन्हें  robot car, driver less car नाम से जाना जाता है। कई multi national कंपनी इस field  में research कर रही है। कार में बहुत सारे sensors लगे होते है , जैसे की GPS, sonar, radar, Lidar आदि और इन sensors और machine intelligence की मदद से कार चलती है।

Artificial Intelligence Examples

आज के समय में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बहुत ही फेमस होता जा रहा है। बहुत से टेक्नीकल एक्सपर्ट्स  का मानना है कि AI हमारा future है, वैसे तो हम अपने चारों तरफ देखे तो हम पाएंगे की यह हमारा future नही बल्कि present है। आज के टाइम में यूज़ होने वाले कुछ ऐसे AI example, जिससे आप और अच्छी तरह से समझ पाएंगे कि Artificial Intelligence क्या है।

Siri

Siri के बारे में शायद आपने जरूर सुना होगा यह Apple द्वारा पेश किया गया सबसे फेमस  personal assistant है। हालांकि यह सिर्फ iPhone और iPad में उपलब्ध है। यह AI का सबसे बेहतरीन example है, इससे बस आप Hey Siri बोलिये और यह आपके लिए massage send कर सकता है, internet से information ढूंढ सकता है, voice call कर सकता है, कोई भी application open कर सकता है यहां तक कि timer set व calendar में event add करने जैसे कामो में आपकी सहायता कर सकता है।

Tesla

न केवल Smartphones बल्कि Automobiles भी Artificial Intelligence की ओर बढ़ रहे है। अगर आप एक car geek है, तो आप tesla के बारे में जानते होंगे। यह अब तक उपलब्ध सबसे best Automobiles में से एक है। tesla car में न केवल self driving बल्कि productive capabilities और पूर्ण technological innovation जैसे feature उपलब्ध है। ऐसी ही न जाने कितनी self driving car और बन रही है जो आने वाले time में और भी smart हो जाएगी।

Google AI

Google AI की मदद से आप बहुत सी जानकारी प्राप्त कर सकते जैसे- Education के लिए आपको पढ़ाई की बहुत सारी जानकारी मिल जाएगी। इसमें आपको अपनी योग्यता को बढ़ाने के लिए भी केटेगरी मिलती है, मज़ाक मस्ती या बातचीत करने के लिए भी इसमें बहुत सी अलग-अलग केटेगरी है साथ ही यहाँ पर आपको अपने काम को आगे कैसे बढ़ाया जाए उसके लिए भी अलग से केटेगरी मिल जाएगी।

Nest

Nest सबसे प्रसिद्ध और Artificial intelligence startup में से एक था और इसे 2014 में Google द्वारा खरीद लिया गया । Nest learning thermostat आपके व्यवहार और schedule के आधार पर energy को बचाता है। ऐसा करने के लिए यह behavioral algorithm का यूज़ करता है। यह इतनी intelligent machine है, कि सिर्फ एक हफ्ते में ही आपके लिए उपयोगी temperature का पता लगा लेती है। अगर घर मे कोई न हो तो यह energy बचाने के लिए automatically turn off हो जाती है।

Artificial Intelligence मनुष्य और टेक्नॉलॉजी का फ्यूचर है इसके द्वारा वो सभी काम  किये जा सकते है, जो की इंसानों के लिए कर पाना पॉसिबल नहीं है।  AI expert का मानना है कि AI future में कुछ भी करने में सक्षम होगा। यह किसी भी काम को इंसानो से बेहतर कर पायेगा। वैसे तो भविष्य मे यह टेक्नोलॉजी हमारे लिए बहुत ही फ़ायदेमंद होने वाली है लेकिन  अगर यह गलत हाथों मे लग जाए जैसे आतंकवादी, नक्सलवादी आदि , तो यह पुरे वर्ल्ड के लिए एक बहुत बड़ा खतरा पैदा कर सकती है। हाल ही में सऊदी अरब की एक ऑयल फैक्ट्री में किया गया ड्रोन हमला इसका विनाशकारी उदाहरण है।

Tips

तो दोस्तों आज आपने Ai क्या है इसके उदारहण कौन से तथा AI का Full Form क्या होता है Hindi मे जाना, आपको ये जानकारी कैसी लगी हमे कमेन्ट बॉक्स मे बताना ना भूले साथ ही इस जानकारी को दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर भी अवश्य शेयर करे ताकि उनको भी इसकी जानकारी अच्छे से हो सके।

Read More

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here